Input your search keywords and press Enter.

बिहिया मामले में NHRC ने स्वतः लिया संज्ञान

राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने भोजपुर, बिहिया में एक महिला को निर्वस्त्र घुमाने और उसकी पिटाई करने के मामले में स्वतः संज्ञान लिया है. आयोग ने पूरे मामले में तत्पर्यता दिखाते हुए बिहार सरकार को नोटिस भेजा है. साथ ही मानवाधिकारी आयोग ने मुख्य सचिव को नोटिस भेज कर चार हफ्ते में जवाब मांगा है.

साथ ही आयोग ने डीजीपी को निर्देश दिया कि पीड़ित महिला और उनके परिजनों को सुरक्षा दी जाये. इतना ही नही आयोग ने यह भी सुनिश्चित करने को कहा कि कोई भी अपराधी पीड़ित या उनके परिवार वालों को डराया और धमकाया न जा सकें. मुख्य सचिव से मामले में पूरी विस्तृत रिपोर्ट तलब की गयी है.

Loading...

मालूम हो कि बिहिया में शक में महिला को भीड़ ने ने केवल पिटाई की, बल्कि भीड़ ने महिला के कपड़े उतरवाकर जुलूस निकलने की पूरी घटना को मानवाधिकार का उल्लंघन कहा है. मीडिया रिपोर्ट देखने के बाद एनअचआरसी ने माना की घटना के समय पुलिस प्रशासन की लापरवाही है. आयोग ने इस मामले में हुए कुछ लोगों की गिरफ्तारी को नाकाफी माना है.

बता दें कि विमलेश शाह का शव सोमवार को बिहिया थाना क्षेत्र में रेल पटरी के नजदीक मिला. संदेह में भीड़ ने एक महिला को निर्वस्त्र कर सड़क पर पीटते हुए घुमाया था. इस पूरें मामले पर पुलिस समेत थानेदार को सस्पेंड भी किया गया तो वहीं, 16 आरोपी को गिरफ्तार भी किया गया था. इसी मामले पर आयोग ने स्वतः संज्ञान लिया है

Leave a Reply

Your email address will not be published.