Input your search keywords and press Enter.

बिहार में 24 घंटे में कोरोना से रिकॉर्ड 142 मरीजों की मौत, आंख बंद कर देख रही है नीतीश सरकार!

बिहार में कोरोना से 24 घंटे में 142 लोगों की मौत हो गयी। 31 की मौत पटना में हुई जबकि 111 लोगों की मौत बिहार के अन्य जिलों में हो गयी। पटना के चार बड़े अस्पतालों, एनएमसीएच में 16, पटना एम्स में 5, पीएमसीएच में 7 और आईजीआईएमएस में तीन लोगों की मौत कोरोना से हो गयी।

हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को 67 संक्रमितों की इलाज के दौरान मौत की पुष्टि की है। मगध, भोजपुर और सारण के जिलों 47 लोगों की कोरोना से जान चली गई। नालंदा में नौ, गया में आठ और बक्सर में सात लोग जान गंवा बैठे। इसके अलावा रोहतास में पांच, नवादा में चार, सीवान और बेगूसराय में तीन-तीन, गोपालगंज, कैमूर और औरंगाबाद में दो-दो जबकि वैशाली और जहानाबाद में एक-एक को कोरोना ने लील लिया।

आपको बता दें कि उत्तर बिहार के जिलों में सोमवार को कोरोना से 41 लोगों की मौत हो गई। सबसे अधिक 14 लोगों की मौत बेतिया मेडिकल कॉलेज में हुई। मरने वालों मे 12 बेतिया जबकि दो लोग मोतिहारी के रहने वाले थे। मुजफ्फरपुर में 10 लोगों की मौत कोरेाना से हो गई। इनमें पांच की मौत एसकेएमसीएच में जबकि पांच लोगों की जान शहर के निजी अस्पतालों में हो गई।

दरभंगा मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान 10 लोगों की मौत कोरोना से हो गई। इनमें सात लोग दरभंगा के रहने वाले थे जबकि एक-एक व्यक्ति दरभंगा,सुपौल और समस्तीपुर के थे। इसके अलावा मधुबनी के विभिन्न अस्पतालों में चार और समस्तीपुर में तीन लोगों की मौत कोरोना से हो गई।