Input your search keywords and press Enter.

केविवि प्रोफेसर पर हुए हमले में एबीवीपी की कोई भूमिका नहीं, पूर्व मंत्री तेजप्रताप का दावा गलत


फोटो-मोतिहारी में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते एबीवीपी के प्रदेश संगठन मंत्री अनिल दूबे एवं अन्य

डीबीएन न्यूज/मोतिहारी {मधुरेश}

पूर्व पीएम भारतरत्न अटल बिहारी वाजपेयी पर महात्मा गांधी केविवि के सहायक प्रोफेसर संजय कुमार द्वारा की गयी टिप्पणी और उसके बाद उत्पन्न हालात को लेकर आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् {एबीवीपी} की ओर से मोतिहारी में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित किया गया. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एबीवीपी के प्रदेश संगठन मंत्री अनिल दूबे मिडिया से मुखातिब हुए. पत्रकारों से उन्होंने ने कहा कि महात्मा गांधी केंद्रीय विवि के प्रोफेसर संजय कुमार द्वारा भारतरत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी पर की गयी गलत टिप्पणी निंदनीय है. वाजपेयी जी राष्ट्र रत्न थे. प्रदेश संगठन मंत्री ने कहा कि गलत टिप्पणी की प्रतिक्रिया में प्रो संजय कुमार के साथ हुई हिंसा की भी कड़ी भर्त्सना होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि उस हिंसा में विद्यार्थी परिषद का कोई कार्यकर्ता सम्मिलित नहीं था. बिहार के पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव द्वारा इस हिंसा में विद्यार्थी परिषद के शामिल होने के दावे को एबीवीपी नेता ने सिरे से खारिज कर दिया. श्री दूबे ने कहा कि पूर्व मंत्री का दावा पूर्ण रूपेण गलत है.

Loading...

एबीवीपी के प्रदेश संगठन मंत्री ने कहा कि कुलपति द्वारा साइन डाई लगाकर केविवि को बंद करना छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है. विद्यार्थी परिषद् कुलपति के इस निर्णय का कड़ा विरोध करती है. एबीवीपी ने कुलपति पर विश्वविद्यालय के अंदर नकारात्मक वातावरण बना कर बिहार के गौरव को धूमिल करने का आरोप लगाया.उन्होंने कहा कि एबीवीपी इसे कभी स्वीकार नहीं करेगी. प्रदेश संगठन मंत्री ने जोर देकर कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद केंद्रीय विवि के छात्रों के साथ हमेशा मुस्तैदी से खड़ी रहेगी.अगर छात्रहित में विवि को जल्द से जल्द नहीं खोला गया तो विद्यार्थी परिषद आंदोलन के लिये बाध्य होगी. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एबीवीपी के जिला संगठन मंत्री दीपक कुमार, जिला संयोजक राजन सिंह, प्रदेश कार्यकारणी सदस्य प्रियेश गौतम, एम.एस.कॉलेज उपाध्यक्ष कुमारी सौम्या शरण, महासचिव आशीष रंजन, एल.एन.डी.कॉलेज उपाध्यक्ष रिषभ राज, उजाला कुमार, अनुप सूरज, सौरभ कुमार, दिव्यांशु, रिशु राज, गौरव चंद्रवंशी, सौरभ त्रिपाठी, निखिल सिंह एवं कौशल जहाँगीर इत्यादि उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.