Breaking News
January 19, 2019 - तेज प्रताप ने नए आवास में जाने के लिए की चुपके से पूजा, तस्वीर देख रह गए सभी दंग
January 19, 2019 - IRCTC घोटाला: लालू की बढ़ी अंतरिम जमानत अवधि, कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला
January 19, 2019 - दरभंगा में इन दो दिग्गजों के बीच होगा महामुकाबला
January 19, 2019 - रेल परियोजना को लेकर हाजीपुर मुख्य जोनल पर धरणा/प्रदशॅन आपर सहयोग से भारी जनसमथॅन से संपन्न। अागामी 29 जनवरी को दिल्ली मे आमरण अनशन-मनोज
January 18, 2019 - मैच के बाद धोनी ने कही दिल जीत लेने वाली बातें
January 18, 2019 - मुंगेर में अनंत सिंह ने दिखाई ताकत
January 18, 2019 - रघुवंश प्रसाद बीजेपी में होंगे शामिल?
January 18, 2019 - कन्हैया कुमार बेगुसराय से ही लड़ेंगे, हो गया फाइनल
January 17, 2019 - मुख्यमंत्री ने गंडक नदी पर निर्माणाधीन बंगरा घाट पुल, सत्तर घाट पुल एवं बेतिया-गोपालगंज पुल का किया एरियल सर्वेक्षण
January 17, 2019 - हमलोगों की प्रतिबद्धता न्याय के साथ विकास की है: मुख्यमंत्री

ABVP के मणिकांत बोले- ‘प्रशांत किशोर को चैलेंज देकर जीता है चुनाव’

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव अध्यक्ष पद पर छात्र जदयू की जीत के बाद एबीवीपी और विरोधी उम्मीदवारों ने इस चुनाव में धांधली का आरोप लगाया है. बता दें अध्यक्ष पद पर छात्र जदयू तो वहीं उपाध्यक्ष पद पर एबीवीपी की अंजना सिंह ने चुनाव जीता है.

महासचिव के पद पर एबीवीपी से चुनाव जीतने के बाद मणिकांत मणि ने प्रशांत किशोर पर जुबानी हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि हमने यह चुनाव पीके को चैलेंज देकर जीता है. अध्यक्ष पद हाथ से जाने के बाद उन्होंने कहा कि यह चुनाव पैसे के दम पर हुआ है. उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर पांच सीट चाहते थे लेकिन हमने संघर्ष से यह चुनाव जीता.

वहीं, अन्य विरोधी दल ने भी चुनाव में धांधली का आरोप लगाया. विरोधी दलों का कहना है कि प्रशांत किशोर बैग में क्या लेकर आए थे. उन्होंने कहा कि वीसी से मिलकर बैलेट पेपर बदला गया है. जबकि आचार संहिता लागू होने के बाद भी वह यूनिवर्सिटी कैंपस में क्या कर रहे थे.

विदित हो कि सोमवार की देर शाम पीयू वीसी रास बिहारी सिंह से मिलने के बाद सवालों के घेरे में आए जदयू राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर छात्रों के निशाने पर रहे. जानकारी के मुताबिक एबीवीपी के छात्रों ने पथराव भी किया था. जिसके बाद छात्रों की गिरफ्तारी भी हुई. इसके बाद बीजेपी एमएलसी धरने पर बैठे छात्रों के रिहाई के बाद धरने से उठे. तब से विवाद गहराता गया.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Related Articles