Input your search keywords and press Enter.

LJP की कमान संभालते ही पारस का चिराग पर हमला, कहा- भतीजा तानाशाह हो जाएगा तो चाचा क्या करेगा

LJP में दो फाड़ होने के बाद पारस गुट की कमान पशुपति कुमार पारस के हाथों में सौंप दी गई है। गुरुवार को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पारस को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया। गुरुवार शाम एलजेपी कार्यालय में इसकी औपचारिक घोषणा हुई।

पार्टी की कमान संभालते ही पशुपति कुमार पारस ने चिराग पासवान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भतीजा तानाशाह हो जाएगा तो चाचा क्या करेगा। यह प्रजातंत्र है, कोई आजीवन अध्यक्ष नहीं रह सकता। वहीं, जब पत्रकारों ने पारस से पूछा कि आप तो एक साथ 4 पद पर हैं, इस सवाल पर पारस भड़क गए और प्रेस कॉन्फ्रेंस छोड़कर निकल गए।

दलित सेना के अध्यक्ष पद पर रहने के सवाल पर पारस ने कहा कि दलित सेना अलग संस्था है, जिस दिन मंत्री पद लूंगा, उस दिन संसदीय दल के अध्यक्ष का पद छोड़ दूंगा। उन्होंने कहा कि चुनाव का काम सम्पन्न हो गया है। मेरे दल के लोगों ने मुझे बहुत बड़ी जिम्मेदारी दी है।

बड़े भाई का सपना था कि समाज में गिरे हर वर्ग के लोगों का उत्थान करने का प्रयास करना। जो साथी दुखी होकर दूसरे पार्टी में गए हैं, वो वापस आएं। मैं उनसे माफी मांगता हूं। वो वापस आए और साथ दें। उन्होंने यह भी कहा कि सामाजिक न्याय के तहत पार्टी को आगे बढ़ाएंगे। विश्वास दिलाता हूं कि पार्टी के अंदर कोई विरोध नहीं है। अगर ऐसा होता तो मैं निर्विरोध नहीं चुना जाता।