औरंगाबाद:घर के बाहर सो रहे किसान को अपराधियों ने मारी गोली मौके पर हुई मौत ।

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

फोटो:आक्रोशीत लोग,सडक हो रही आगजनी,पिडित परिवार को समझाते अधिकारी।

रिपोर्ट-डीबीएन न्यूज़ /औरंगाबाद(घीरज कुमार):-औरंगाबाद जिला के ओबरा थाना क्षेत्र के एनएच 139 के समीप खराटी गांव निवासी उम्र 50 वर्ष रविंद्र पांडे के रात्रि में घर के बाहर सोने के क्रम में अपराधियों ने गोली मार दी ।जिससे उनके घटनास्थल पर ही मौत हो गई ।वहीं घटना के संबंध में मृतक के भाई बिरेंद्र पांडे के द्वारा बताया गया कि रविवार की रात्रि लगभग 10 बजे घर के बाहर रोज की तरह खाना खा कर सो रहे थे कि दो बार आवाज आई ।तो हम लोगों के द्वारा बाहर देखा गया कि एक मोटरसाइकिल पर तीन सवार लोग भाग रहे ।गोली की आवाज सुनकर बाहर निकले तो मृतक के सिर से खून भरा था और अपराधी खराटी नहर से बारूण की ओर भागे ।

आक्रोशित परिजनों के द्वारा सुबह 06 बजे से एनएच 139 को घर के सामने जाम कर सड़क पर टायर जलाकर अंजनी की और प्रशासन के खिलाफ नारे लगाए तथा थाना अध्यक्ष एवं गशती के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाते हुए ,ओबरा हो रहे अवैध धंधे में थाना अध्यक्ष के सम्मिलित की आरोप लगाते हुये । नारेबाजी करने लगे और परिवार को मुआवजा एवं सुरक्षा की भी मांग आक्रोशित ग्रामीणों के द्वारा की गई ।जाम के कारण सड़क पर लंबा जाम लग गया। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर अभियान एसपी राजेश सिंह , एसडीपीओ राजकुमार तिवारी , एसडीओ अनीस अख्तर, दाउदनगर थाना अध्यक्ष अभय सिंह , खुदवां थाना अध्यक्ष अभय शंकर सिंह , ओबरा दरोगा मनोज कुमार, साकेत सौरभ ,दाउदनगर दरोगा शेखर सुमन दल बल के साथ मौके पर पहुंचकर समझाने बुझाने लगे लेकिन आक्रोशित ग्रामीणों के द्वारा एक एक न सुनी गई ।और सारी मांगों को जल्द पूरा करने पर अड़े रहे ।

मामला ना बनते देख एसडीपीओ राजकुमार तिवारी के द्वारा थाना अध्यक्ष को हटाने का आश्वासन दिया गया। लेकिन ग्रामीण तत्काल थाना अध्यक्ष को हटाने की मांग पर अड़े रहे, तब जाकर बड़े अधिकारियों के आदेश के बाद घोषणा की गई कि थानाध्यक्ष को हटा दिया गया है ,तब जाकर लोग शांत हुए और मुख्य सड़क से जाम को हटाया गया और शव को पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद भेज दिया गया ।
06 घंटे तक लगा रहा जाम ओबरा में हुए हत्या के विरोध में लोगों ने 6 घंटे तक एनएच को जाम किया। जिसके कारण लंबा जाम लगा रहा जिस में स्कूली वाहन भी जाम का शिकार हो गए और गाडी खड़ा रहा 12 बजे जाम को हटाया गया ।

घटनास्थल की कुछ ही दूरी पर थी पुलिस की गश्ती गाड़ी ।
मृतक के परिजनों के द्वारा बताया गया कि घटना के लगभग सौ मीटर पर ही गिरा मोड़ के पास पुलिस पेट्रोलिंग गाड़ी उपलब्ध थी ।जिसे साबित होता है कि बेखौफ अपराधियों ने पुलिस के नाक के नीचे से अपराघियो ने दीया हत्या का अंजाम।मृतक के परिवार में एक है । लड़का
मृतक रविंद्र पांडे का एक लड़का अश्विनी कुमार जो चेन्नई में रहकर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है और घटना के समय घर पर ही मौजूद था ।वहीं मृतक के परिवार पांच भाई ।विरेंद्र पांडे ,बच्चन पांडे, राज किशोर पांडे ,मृतक रविंद्र पांडे जो भाई में शामिल सांझील भाई थे ।वहीं परिजनों के द्वारा बताया गया कि हमारे परिवार को किसी से कोई भी विवाद नहीं है।

ओबरा में 72 घंटे के अंदर हुये दो हत्या ।
गौरतलब हो कि 72 घंटे में ओबरा थाना क्षेत्र के अलग-अलग जगह पर दो हत्या कर दिया गया है । इधर शनिवार के दिन पटवन कर रहा है ,किसान कारा के दुबे बिगहा निवासी गिरजा सिंह को अपराधियों ने गम्हरिया रोड पर सिर में ही गोली मारकर हत्या कर दी गई है ।
वहीं दूसरा रविंद्र पांडे को भी सिर में दो-दो गोली मारी गई है ।

एसडीपीओ राजकुमार तिवारी के द्वारा बताया गया कि यह साइको किलर के द्वारा किया गया है ,लोगों में दहशत फैलाने के लिए हत्या की जा रही है ।वहीं वैज्ञानिक पद्धति के साथ कई बिंदुओं पर पुलिस के द्वारा जांच किया जा रहा है ।और जल्द ही हत्या में संलिप्त लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। घटना के के बाद पुलिस ने बताया कि अमिलौना गांव से एक लावारिस की हालत में काले रंग की अपाची बरामद की गयी है ।

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *