Input your search keywords and press Enter.

बिहार बन रहा कोरोना मुक्त, रिकवरी रेट में बनाया रिकॉर्ड

बिहार जल्द ही कोरोना मुक्त हो जायेगा, बिहार में कोरोना का रिकवरी रेट करीब 91% हो गया हिया जो देश के औसत रिकवरी रेट से 14% अधिक है. बिहार में कोरोना को लेकर जिस तरीके से टेस्टिंग बढ़ी है उससे कहीं न कहीं एक उम्मीद जगी है. बिहार ने सैम्पल जांच में भी 50 लाख का आंकड़ा पार कर लिया है जो कि एक रिकॉर्ड है.

स्वास्थ्य मंत्री मंत्री मंगल पांडेय ने भी कोरोना सैंपल की जांच का आंकड़ा 50 लाख के करीब पहुंचने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए राज्यवासियों और कोरोना योद्धाओं के प्रति आभार जताया है. उन्होंने कहा कि सूबे में कोरोना जांच में न सिर्फ तेजी आयी है, बल्कि जांच का आंकड़ा 50 लाख के करीब पहुंच गया है. वहीं दूसरी ओर कोरोना से स्वस्थ होने वालों की संख्या में निरंतर इजाफा हो रहा है.

बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,59,526 और मृतकों की संख्या बढ़कर 831 हो गयी है जबकि राज्य में वर्तमान में 13 हजार 675 कोरोना के एक्टिव मरीज हैं.

हालांकि यह भी डर है कि बिहार में कोरोना महामारी की दूसरी लहर 15 दिनों में आ सकती है. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने वीडियो कांफ्रेंसिंग में राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों को इसके लिए तैयार रहने के लिए कहा है. उन्होंने स्पष्ट कहा है कि जिन डॉक्टरों व पारा मेडिकल स्टाफ को अवकाश चाहिए, वे इस बीच ले लें. 15 दिन बाद विभाग किसी को अवकाश देने की स्थिति में नहीं रहेगा.

बताते चलें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने उन राज्यों को आगाह किया है, जहां कोरोना संक्रमण (CoronaVirus Infection) के मामले आने कम हो गए हैं. संगठन के अनुसार वहां संक्रमण की दूसरी लहर (Second Wave of Corona Infection) आ सकती है. इस लहर के पहले से ज्यादा तेज होने की आशंका है. दिल्ली में दूसरी लहर के साथ रिकॉर्ड संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है.

आशंका को देखते हुए स्‍वास्‍थ्‍य विभाग पहले से तैयारियों में जुट गया है. प्रधान सचिव जांच व उपचार सुविधाएं बढ़ाने में जुटे हैं. 15 सितंबर के पहले आरटी-पीसीआर विधि से जांच की संख्या बढ़ाने के लिए नई मशीनें स्थापित कराने के साथ दो नई कोबास मशीनें भी मंगाई जा रही हैं.