Input your search keywords and press Enter.

बीजेपी ने उपेंद्र कुशवाहा को बताया भस्‍मासुर

सम्राट अशोक प्रकरण को लेकर जदयू और भाजपा का विवाद शांत नहीं हो रहा.भाजपा-जदयू के बाद हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा और अब राजद ने भी इसको लेकर मोर्चा खोल दिया है.भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष डा. संजय जायसवाल ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई. लेकिन जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने इसे आईवाश बता दिया.कहा कि जले पर नमक मत छिड़किए.अब भाजपा प्रवक्‍ता अरविंद सिंह ने इसको लेकर उपेंद्र कुशवाहा पर जमकर निशाना साधा है.कहा कि हमने तो प्राथमिकी दर्ज करा दी, अब आप उन्‍हें गिरफ्तार कराइए.अपना पुरुषार्थ दिखाइए.

आपके पास गृह मंत्रालय है, गिरफ्तार कराइए न

मीडिया से बात करते हुए भाजपा प्रवक्‍ता ने उपेंद्र कुशवाहा को लेकर कहा कि कहीं पर निगाहें, कहीं पर निशाना. कुछ नेता भस्‍मासुरी प्रवृत्ति के होते हैं.यह प्रवृत्ति सामने आ जाती है. उनके पास गृह मंत्रालय है तो जाकर दया प्रकाश सिन्‍हा को गिरफ्तार कराइए न.अपना पुरुषार्थ दिखाइए. हमने तो केस कर दिया.हमने तो कह दिया कि भाजपा से उनका कोई लेना देना नहीं है.वे भाजपा में कभी नहीं रहे.किसकी सरकार में अवार्ड मिला था, इसकी जांच कराइए.

अवार्ड राष्‍ट्रपति देते हैं, भाजपा नहीं

अरविंद सिंह ने कहा कि भाजपा अवार्ड न देती है और न लेती है.सरकार यह अवार्ड देती है तो सरकार में वे भी शामिल हैं.इसकी एक प्रक्रिया है, राष्‍ट्रपति अवार्ड देते हैं.वे राष्‍ट्रपति से जाकर बोलें.बिना मतलब भाजपा को बीच में क्‍यों घसीट रहे हैं.हम भी चाहते हैं कि दयाशंकर प्रसाद पर कार्रवाई हो.वे अरेस्‍ट हों. हमने तो कार्रवाई के लिए ही एफआइआर कराई है.बिहार में होने वाले विधान परिषद चुनाव का फार्मूला क्‍या होगा, यह तो दोनों दलों के शीर्ष नेतृत्‍व के स्‍तर की बात है। फार्मूला तो बहुत है. मंत्रिमंडल जिस फार्मूले से बंटा वह भी है. यह सब एनडीए के बड़े नेताओं के आपस की बात है.