Input your search keywords and press Enter.

सोशल मीडिया पर पिछड़ रही BJP, बिहार के इन सांसदों के पास हैं तीन लाख से अधिक फॉलोअर्स


न्यूज़ डेस्क: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एक शर्त ने एकबार फिर बिहार के विधायकों और सांसदों की परेशानी बढ़ा दी. दरअसल पिछले हफ्ते मोदी ने कहा था कि अगर सांसद अपने इलाके में 3 लाख और विधायक 1-2 लाख लोगों को टि्वटर पर अपना फॉलोअर बनाते हैं तो मैं उनके इलाके की जनता से इस तकनीक के जरिये सीधी बातचीत के लिए तैयार हूं. पीएम मोदी के इस तयशुदा मापदंड के बाद सांसदों के साथ-साथ मंत्रियों की मुश्किलें बढ़ गयी हैं.



विदित हो कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं लेकिन उनके बहुत सारे विधायक, सांसद और मंत्री का सोशल मीडिया से यारान नहीं है. बिहार की बात करें तो सूबे में बीजेपी के 22 सांसद हैं. इनमें मात्र तीन ही मोदी की शर्तों पर खरा उतरते हैं. इनमें मोदी के प्रिय और केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, राजीव प्रताप रुडी और शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा हैं. ये तीनों मोदी की शर्तों को पूरा करते हैं.

Loading...


Widget not in any sidebars

हालांकि इन तीन में भी शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा हरवक्त पार्टी लाइन से अलग बयान देते फिरते हैं. शॉटगन की तरह एक और सांसद हैं दरभंगा के MP कीर्ति झा आज़ाद, वे भी पार्टीलाइन से अलग बयान देने में माहिर हैं. सबसे अचरज की बात बिहार के चार बीजेपी सांसदों के पास अपना ट्विटर अकाउंट नहीं है.

बीजेपी का बड़ा लक्ष्य


गौरतलब है कि बीते रविवार को नमो एप पर प्रधावनमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बीजेपी सांसदों और विधायकों से बात की थी और उन्हें अपने इलाके में तीन लाख और विधायकों को 1 से 2 लाख फॉलोअर बनाने का लक्ष्य दिया था और कहा था कि जिनके पास इतने फॉलोअर्स होंगे, उसके क्षेत्र की जनता से वे सीधे मुखातिब होंगे.मोदी ने साल 2014 में नमो एप लांच किया था. इसे अब तक एक करोड़ से ज्यादा लोग डाउनलोड कर चुके हैं

पीएम की उम्मीदों पर खरा उतरने वाले MP


गिरिराज सिंह(नवादा) : 8,92,348
राजीव प्रताप रूडी (सारण) : 5,88,456
शत्रुघ्न सिन्हा (पटना साहिब): 3,55,635

Leave a Reply

Your email address will not be published.