Input your search keywords and press Enter.

हिरासत से भागने वाला बीजेपी नेता ने नाटकीय अंदाज में किया सरेंडर, पुलिस हाथ मलती रह गई

anil-singh-1

न्यूज़ डेस्क: रामनवमी के बाद औरंगाबाद में फैली हिंसा का आरोपी तथा पुलिस के हिरासत से फरार मुख्य आरोपीयों में से एक बीजेपी नेता अनिल सिंह ने सोमवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया. बीजेपी नेता ने कोर्ट में बड़े ही नाटकीय अंदाज में आत्मसमर्पण किया है. अनिल सिंह ने सफाईकर्मी का वेश धारण कर अदालत पहुंच अपने वकील के माध्यम से सरेंडर करने की इच्छा जताई.

इसके बाद अनिल सिंह को वकील ने सीजेएम कोर्ट में उन्हें पेश किया जहां से न्यायिक हिरासत में उन्हें जेल भेज दिया गया है. हालांकि औरंगाबाद हिंसा मामले में उन्होंने खुद को फंसाए जाने का आरोप जिला प्रशासन पर लगाया है. साथ ही इस मामले में गंभीरता से जांच की मांग भी की है. गौरतलब है कि रामनवमी के जुलूस के दौरान दो संप्रदायों के बीच भारी झड़प हो गई थी. हालात बेकाबू होते देख भारी संख्या में पुलिसबल को तैनात किया गया था.

Loading...

आत्मसमर्पण करने से पहले अनिल सिंह पुलिस कस्टडी में था जहाँ से फरार होने का आरोप था. औरंगाबाद जिले में हिंसा के बाद भारतीय जनता पार्टी का नेता पुलिस के हिरासत में था जो पुलिस को चकमा दे कर फरार हो गया. अरोपी नेता अनिल सिंह को तनाव और हिंसा फैलाने के अारोप में पुलिस ने नगर थाना कांड संख्या 95/18 में गिरफ्तार किया था. फरार होने के बाद दारोगा तारबाबू के बयान पर कांड संख्या 96/18 दर्ज किया गया. फरार बीजेपी नेता भाजपा मानवाधिकार प्रकोष्ठ का प्रदेश महामंत्री रह चुका है.

हिंसा के मामले में गिरफ्तार हिंदू वाहिनी नेता अनिल सिंह पुलिस को चकमा देकर थाने से फरार हो गया किसकी पुष्टि खुद पुलिस अधीक्षक डॉ. सत्‍यप्रकाश ने किया था. अनिल सिंह की पुलिस कस्टडी से फरार होने के बाद पुलिस की खूब किरकिरी हो रही थी. हालांकि इसके बाद भी पुलिस अनिल सिंह को गिरफ्तार नहीं कर पाई आरोपी ने खुद ही कोर्ट पहुंचकर सरेंडर कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.