Breaking News
December 12, 2018 - लालू निकलना चाहते हैं बाहर
December 12, 2018 - कृषि विभाग में निकली बंपर बहाली
December 12, 2018 - महागठबंधन में यह फार्मूला आया सामने
December 12, 2018 - तेज प्रताप भी जीत से उत्साहित
December 12, 2018 - हार के अगले दिन बिहार में योगी
December 12, 2018 - बिहार से बाहर जदयू के सभी प्रयासों का हुआ बुरा हाल
December 12, 2018 - महागठबंधन में बड़े भाई और छोटे भाई पर बिगड़ी बात
December 12, 2018 - लोस के शीत सत्र में सुपौल की कांग्रेस सांसद ने इन मुद्दों को ले दी स्थगन प्रस्ताव नोटिस
December 12, 2018 - वसुंधरा राजे सरकार के 30 में से 20 मंत्री चुनाव हार गए, बेटे को टिकट दिलवाया वो भी हार गये
December 11, 2018 - मुख्यमंत्री ने समाजवादी नेता स्व0 राम अवधेष चैधरी के श्राद्धकर्म में भाग लिया

PUSU: वोटिंग के बाद काउंटिंग जारी, नहीं थमी सरगर्मी, बीजेपी मंत्री ने कहा-CM नीतीश से करूंगा बात

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए


पीयू में छात्र संघ चुनाव की मतदान प्रक्रिया भले ही पूरी हो गई हो लकिन इसको लेकर राजनीति गर्मागर्मी कम नहीं हो रही. पीके के वीसी से मुलाकात के बाद पीयू चुनाव एक मुद्दा बन गया. अब इसी कड़ी में केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने छात्र संगठन एबीवीपी पर कार्रवाई को गलत बता पुलिसकर्मियों को चिन्हित कर करवाई करने की मांग की भी है. यही नहीं उन्होंने इस बाबत सीएम से मिल कर चर्चा करने की भी बात कहीं हैं.

केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा कि वो भी छात्र संगठन एबीवीपी का अध्यक्ष रहे हैं. छात्र संघ के माध्यम से विश्वविद्यालय में पठन पाठन की एक अच्छी व्यवस्था कायम हो सकती है. लेकिन छात्र चुनाव में जिस तरह का मौहाल बिगड़ा है,यह बड़ा ही दुर्भाग्यपूर्ण है. मंत्री ने एबीवीपी कार्यालय में पुलिस की छापेमारी किये जाने की निंदा करते हुए कहा कि एबीवीपी कोई राजनैतिक दल नही है और ना ही किसी दल का पीछलग्गू है. यह दलगत राजनीति से ऊपर उठकर राजनीति करने वाला छात्र संगठन है.

बीजेपी नेता अश्विनी चौबे ने कहा जिस तरह से छात्र संगठन एबीवीपी के कार्यालय पर करवाई करने वाले पर पुलिसकर्मियों पर अभिलंब कार्रवाई होनी चाहिए. उन्होंने कहा कौन सी शक्ति है, जिसने छात्र संघ कार्यालय में देर रात जाकर आतंक मचाने का काम किया. वहां कोई आतंकवादी थोड़े ही छुपा था. यह एबीवीपी को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है.

वहीं, उन्होंने कहा इस मामले में वो मुख्यमंत्री से बात करने की कोशिश करेंगे. किसी हालात में छात्र संघ की राजनीति को गंदा ना करें. दल के लोग संयमित रहे मर्यादित रहें.उन्होंने कहा विद्यार्थियों में राजनीत का प्रवेश करना दुःखद है. इसलिए विश्वविद्यायल में हो रहे चुनाव निष्पक्ष हो.

बता दें कि पीयू छात्र संघ चुनाव के लिए मतदान शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो चुका है. अब साइंस कॉलेज में वोटों की गिनती का काम चल रहा है. उम्मीद जताई जा रही है कि देर रात तक सभी नतीजे आ जाएंगे. वोटिंग के बाद काउंटिंग का काम पटना स्थित साइंस कॉलेज में चल रहा है. सबसे पहले कॉलेज काउंसलर्स के लिए वोटों की गिनती की जा रही है. जिसमें जीत का खाता वाम दल-एआईएसएफ ने खोला है. पटना आर्ट कॉलेज में एआईएसएफ उम्मीदवार की जीत हुई है. प्रेम प्रतिज्ञा कॉलेज काउंसलर निर्वाचित हुई हैं.

दरभंगा हाउस से काउंसलर के लिए आईडीएफ समर्थित आइसा उम्मीदवार रिजवान की जीत हुई है. मतगणना को लेकर पटना के साइंस कॉलेज में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. कड़ी सुरक्षा में मतपेटियां खोली जानी है. कॉलेज कैंपस में बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद हैं. सिर्फ उमीदवारों को ही अंदर जाने की इजाजत मिली है.
आज देर रात तक नतीजे आने के अनुमान हैं.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author