Breaking News
June 18, 2019 - सीपी ठाकुर ने नीतीश कुमार को दी नसीहत, बीमारी आती है तब सरकार सक्रिय होती है
June 18, 2019 - जिलाध्यक्षों पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी में राजद, नए सिरे से पार्टी के गठन पर जोड़
June 18, 2019 - ‘चमकी’ बुखार पर बैठक के दौरान मैच का स्कोर पूछते दिखे स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे
June 17, 2019 - विधानसभा के लिए हम ने 35-40 सीटों पर ठोका दावा
June 17, 2019 - इंसेफेलाइटिस को लेकर नीतीश कुमार ने लिया बड़ा फैसला
June 17, 2019 - गर्मी की वजह से गया में धारा 144 लागू, स्कूलों की छुट्टियां और बढ़ी
June 17, 2019 - नीतीश कुमार पर सवाल सुन भड़क उठे मंत्री श्याम रजक
June 17, 2019 - सवर्णों पर फिर हमलावर हुई राजद
June 17, 2019 - ऐसे लोग कैसे मंत्री बन जाते है
June 15, 2019 - यूपी में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल से मरीज बेहाल

गया से टिकट कटने के बाद BJP सांसद ने लगाया बड़ा आरोप

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

बिहार एनडीए में हुए सीट बंटवारे की फिफ्टी-फिफ्टी फार्मूला अब बीजेपी नेताओं को ही रास नहीं आ रहा है. दरअसल, पिछले चुनाव में बिहार से बीजेपी के 22 सांसद जीत कर लोकसभा गये. लेकिन गठबंधन ने सीटों का अकड़ा बिगाड़ दिया. जिसक वजह से आज कई बीजेपी नेताओं की टिकट कट गयी है. सभी नेता अब पार्टी से नाराज चल रहें हैं. गिरिराज सिंह के बाद अब बीजेपी नेता और गया सांसद हरि मांझी भी भड़क गए और अपने ही पार्टी के जिला अध्यक्ष पर गड़बड़ी करने का आरोप लगाया लगा डाला है.

दोनों नेताओं ने अपनी नाराजगी लोकसभा चुनाव 2019 में टिकट कटने के बाद की है. कारण आज यानि मंगलवार को भाजपा के सांसद हरि मांझी भड़क उठे है. मीडिया से मुखातिब होते हुए हरि मांझी ने कहा कि भाजपा जिलाध्यक्ष ने संगठऩ को लेकर कुछ काम किया ही नहीं. वह भाजपा का गया में माहौल खराब किए. उन्होंने खुलकर कहा कि जिलाध्यक्ष ने मेरी भी छवि खराब की. जिसके कारण यह सब हुआ है.

इसके साथ ही हरि मांझी ने बीजेपी को ही नसीहत दे डाला. कहा कि भाजपा जिला अध्यक्ष पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी के लिए काम करते हैं. पार्टी को जिलाध्यक्ष के कारनामों की जांच करनी चाहिए. सांसद ने कहा कि देश की जनता के साथ मैं भी पीएम मोदी को फिर से पीएम बनता देखना चाहता हूं.

अंत में गुस्साए सांसद ने कहा कि भले ही मेरी सीट दूसरे के खाते में चली गई हो, लेकिन जदयू के उम्मीदवार का वह समर्थन करेंगे.

आपको बता दें कि बिहार एनडीए गठबंधन ने बिहार के 40 लोकसभा सीटों में से आधे-आधे पर चुनाव लड़ने का फैसला किया साथ ही छः सीट गठबंधन में शामिल लोजपा को देने का निर्णय लिया था. उसके कारण बीजेपी के कई नेताओं की टिकट कटनी पहले से ही तय दिख रही थी. चुनाव में खड़े होने वाले उम्मीदवारों के नाम का ऐलान होते ही अब बीजेपी नेताओं की नाराजगी सामने आ रही है. इन दोनों नेताओं के बाद बीजेपी से सिवान के सांसद ओमप्रकाश यादव ने भी अपनी नाराजगी जाहिर की है.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *