अलग तरीके से पार्टी चलाएंगे चिराग पासवान, लिया बड़ा फैसला

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

धीरे धीरे रालोसपा की कमान अपने हाथो में रहे चिराग पासवान अब पार्टी के लिए बड़े और अहम् फैसले भी लेने लगे है. चिराग पासवान को अब महसूस हो रहा है कि पार्टी को आगे बढ़ाना है तो परिवार वाद से निकलना जरुरी है. अगले लोकसभा चुनाव में भी तेज प्रताप को बड़े फैसले ले सकते है.

रिपोर्ट की माने तो चिराग पासवान ने अंतिम चरण में टिकट ले उडऩे की प्रवृति पर भी रोक लगाने का फैसला किया है. टिकट उन्हीं को मिलेगा, जो पार्टी में पहले से हैं. अतिथियों के चलते पार्टी की बदनामी होती रही है. इसके आलावा चिराग चाहते है कि अगले चुनाव में परिवार के किसी नए सदस्य को टिकट नहीं मिलेगा.

अभी लोकसभा की सीटों का बंटवारा होना बाकी है. पार्टी सुप्रीमो रामविलास पासवान राज्यसभा जाएंगे. इसके बाद लोजपा को अधिकतम पांच सीटें चाहिए। दो सुरक्षित और तीन सामान्य. सुरक्षित सीटों पर चिराग और रामचंद्र पासवान लड़ेंगे.

परिवार की मांग है कि पार्टी तीसरी सुरक्षित सीट की भी मांग करे. इस सीट पर रामचंद्र पासवान के पुत्र प्रिंस राज चुनाव लड़ेंगे. चिराग इसके लिए राजी नहीं हैं. वे चाहते हैं कि प्रिंस विधानसभा का चुनाव लड़ें. 2015 के विधानसभा चुनाव में प्रिंस की हार हो गई थी. पशुपति कुमार पारस की लोकसभा चुनाव में कभी दिलचस्पी नहीं रही है. वैसे भी वे कैबिनेट मंत्री हैं.

पिछले लोकसभा चुनाव की बात करे तो अंतिम समय में कांग्रेस से आये अतिथि चौधरी महबूब अली कैसर को अंतिम समय में टिकट मिल गया था. विधानसभा चुनाव में तो और गजब हुआ. नॉमिनेशन के दिन तक टिकट बंटे. अब लोकसभा चुनाव के लिए लोजपा ने तय किया है कि पार्टी के लोगों को ही टिकट मिलेगा.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *