देश अब नफरत से नहीं, मुहब्बत से चलेगा- पूर्व सांसद पप्पू यादव

Bihar Patna

जन अधिकार पार्टी के संरक्षक एवं मधेपुरा के पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने मधेपुरा के घैलाढ़ प्रखंड स्थित लक्ष्मीनिया चिकनी पार मेला ग्राउंड में आयोजित देश बचाओ – संविधान बचाओ सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने संविधान विरोधी काले कानून NRC, CAA और NPR के पुरजोर खिलाफत की। सभा को संबोधित करते हुये पप्पू यादव ने भाजपा और आरएसएस पर जमकर प्रहार किया।

उन्होंने कहा कि जो बीजेपी भगवान के भरोसे चुनाव दर चुनाव लड़ती है,दिल्ली के चुनावी नतीजे ने बता दिया है कि अब तो भगवान राम और हनुमान भी नफरत की राजनीति से खफा होकर उसका हाथ छोड़ चुके हैं। मोदी की सरकार जिस तरह का काला कानून लाकर एक समुदाय विशेष को प्रताड़ना दे रही है, आने वाले समय में जनता इनको सबक सीखा देगी।

उन्होंने भाजपा और आरएसएस पर तीखी टिप्पणी करते कहा, ‘‘नफरत, जाति और धर्म के नाम पर चुनाव प्रचार कर रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अब राजनीति से संयास ले लेना चाहिए। जब सत्ता में काबिज पार्टी समाज में जाति और धर्म के नाम पर जहर घोलती है तो समाज का भविष्य अंधकार में चला जाता है और विकास अवरुद्ध हो जाता है।


वहीं, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी आडे़ हाथ लेते हुये उन्होंने पुछा कि आखिर कब तक बिहार में अपराधियों का बोलबाला रहेगा ? कब तक लोगों की हत्‍या होती रहेगी ? सुशासन बाबू दिल्‍ली में जाकर कहते हैं कि वे बिहार को दिल्‍ली बनायेंगे, अपने साथ दिल्‍ली कट्टा लेकर गए थे। लेकिन बिहार में क्‍या हो रहा है, ये दिल्‍ली की जनता को पता था और उसने इनके होश ठिकाने लगा दिए। यही हाल नफरत फैलाने वालों के गोद में बैठने वाले का यहां होगा।


पप्पू यादव ने बिहार की जनता से दिल्ली चुनावों के आधार पर ही साल के अंत में होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव में विकास के नाम उनकी पार्टी को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राज्य में विकास