Input your search keywords and press Enter.

मानवाधिकार संस्था की पहल पर कोर्ट ने दो प्रेमी युगल कॊ मिलाया

डीबीएन न्यूज/गया(प्रिंस): – अधिवक्ता मुकेश कुमार सिन्हा एवं सुरेश कुमार के देखरेख में अवर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ,चतुर्थ कोर्ट में कुमारी अंकिता जो कि गया बिहार की रहने वाली है, कोर्ट के समक्ष लिखित और मौखिक रूप से बयान देते हुए कहा कि उसने अपनी स्वेच्छा से मनोहर सिंह जो की जालौर, राजस्थान के निवासी से उनसे प्रेम विवाह रचाया. साथ ही वह अब अपने पति मनोहर के साथ पति का घर अपनी स्वेच्छा से जाना चाहती है.

Loading...

मनोहर से विवाह के पश्चात अंकिता के परिवार वालों ने मनोहर के ऊपर कानूनी कारवाई कर उसे झूठे आरोप लगाकर उसे केंद्रीय कारागार गया(बिहार) में बंद करवा दिया था. तत्पश्चात मनोहर के बहनोई नाथूराम ने नेशनल ह्यूमन राइट्स एंड पब्लिक वेलफेयर ट्रस्ट को एक आवेदन दिया जिसमें उन्होंने इन्साफ की गुहार लगाई.


Widget not in any sidebars

शनिवार कॊ नेशनल ह्यूमन राइट्स एंड पब्लिक वेलफेयर ट्रस्ट ने एक सकरात्मक पहल के द्वारा दोनों प्रेमी युगल को कानूनी रूप से मिलाया. इसके लिये संस्था को नव दम्पति लड़का और लड़की ने धन्यवाद दिया.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.