Input your search keywords and press Enter.

डीलरों द्वारा ग्राहकों के साथ किया जाता है दुर्व्यवहार

नालन्दा से डीएसपी सिंह

हम जितना राशन देते हैं उतना चुपचाप ले लो नहीं तो तुम लोगों को दूसरे गांव महमदपुर राशन लेने के लिए भेज देंगे.अगर शिकायत ही करना है तो जहां मन है वहां जाओ मेरा कुछ भी बिगड़ने वाला नहीं है.यह कहना है नालंदा जिला के बेन प्रखंड के बड़ी आट गांव के जन वितरण प्रणाली के दुकानदार अखिलेश पासवान का.

इस डीलर से बिशुनपुर के लाभुक तंग आ चुके हैं.लाचार होकर यहाँ के लोग लोक शिकायत निवारण विभाग में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है.इन लोगों का शिकायत है कि हमारे डीलर द्वारा रेगुलर खाद्यान्न एवं किरासन तेल का वितरण नहीं किया जाता है.कभी दो माह तो कभी तीन माह पर खाद्यान्न एवं किरासन तेल का वितरण किया जाता है.

Loading...

Widget not in any sidebars

उस पर भी प्रति लाभुक 5 kg से 15 kg तक ही खाद्यान्न दिया जाता है.डेढ़ लीटर किरासन तेल का ₹50 लिया जाता है.डीलर द्वारा कार्ड लेकर सभी महीना बाला खाना में भर दिया जाता है .इस बार 10 सितंबर को खाद्यान्न वितरण किया गया था पर कार्ड में अगस्त माह का भी आंकड़ा दर्ज कर दिया गया है.मालूम हो कि विगत 2 दिन पूर्व ही सिलाव प्रखंड के करियन्ना गांव के जन वितरण प्रणाली के दो दुकानदारों की अनुज्ञप्ति राजगीर एसडीओ संजय कुमार द्वारा रद्द कर दी गई थी.

DIGI Singing Star Audition के लिए क्लिक करें

इन दुकानदारों पर भी नियमित रूप से लाभुकों को खाद्यान्न नहीं वितरण करने, सरकार द्वारा निर्धारित मूल्य से अधिक राशि वसूलने एवं खाद्यान्न नहीं वितरण करने के बावजूद लाभुकों के राशन कार्ड पर वितरण की मात्रा दर्ज कर देने की शिकायत थी.इस विषय पर विडिओ फिरोज खान से बात करने पर बताया कि इस विषय की हमें कोई जानकारी नहीं है.उन्होंने यह भी कहा कि लोक शिकायत निवारण के मामले की जानकारी एम ओ देंगे.एम ओ से कई बार संपर्क करने का प्रयास किया पर हर समय एम ओ का मोबाइल बिजी बताया.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.