Input your search keywords and press Enter.

डीएम ने सात निश्चय योजना की बैठक में दिये कई निर्देश

{के कुमार श्रवन}जिला पदाधिकारी सतीश कुमार सिंह के अध्यक्षता में सात निश्चय योजना के अंतर्गत हर घर नल का जल एवं हर घर तक पक्की नाली गाली कार्यों की समीक्षात्मक बैठक संपन्न की गई. प्रखंडवार कार्यों की समीक्षा के तहत जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जो भी सामग्री लगाया जा रहा है वो 100 प्रतिशत तक गुणवत्ता पूर्ण होनी चाहिए. बाद में किसी प्रकार की शिकायत मिलने पर कड़ी कार्रवाई किए जाने की बात कहे.

अरवल प्रखंड स्थित कनीय अभियंता जगनारायण कुमार ने बताया कि 43 वार्ड में नल का जल कार्यक्रम शुरू हुआ था. जिसमें सिर्फ 15 वार्ड का पूर्ण कर लिया गया है. शेष में से 05 वार्ड को छोड़कर सभी सितंबर माह में पूर्ण कर लिया जायेगा. इसी प्रखंड के कनीय अभियंता अमीष कुमार ने बताया कि 21 वार्ड में से अब तक 03 पूर्ण हो गया है, तथा 10 सितंबर माह में पूर्ण हो जायेगा. पैसा उपलब्ध हो जाने पर शेष वार्ड का भी कार्य शुरू कर दिया जायेगा. कलेर प्रखंड के कनीय अभियंता ने कहा कि 68 वार्ड में से 19 वार्ड में चालू हो गया है. यह 11 वार्ड में भी सितंबर माह में कार्य पूर्ण हो जायेगा. सभी वार्ड में कार्य प्रगति पर है. 02 वार्ड सदस्य द्वारा कार्य में शिथिलता बरते जाने पर एफ आई आर भी दर्ज की गई है.

Loading...

कुर्था प्रखंड के कनीय अभियंता ने बताया कि कुल 41 वार्ड में लिए गये कार्यों में से अब तक 18 चालू है तथा इस माह में और 15 वार्ड का कार्य पूर्ण हो जायेगा. शेष 08 वार्ड कार्य का राशि उपलब्ध होने पर शुरू कर दिया जायेगा. बंसी प्रखंड के कनीय अभियंता ने बताया कि 51 वार्ड के लक्ष्य के विरुद्ध अब तक 24 वार्ड का कार्य पूर्ण कर लिया गया है. तथा 12 वार्ड का कार्य सितंबर माह में पूर्ण हो जायेगा. से 14 वार्ड का भी कार्य अक्टूबर माह में पूर्ण रुप से संपन्न करा लिया जायेगा. करपी प्रखंड के कनीय अभियंता ने बताया कि 06 पंचायत के 28 वार्डों में प्रारंभ कार्य में से अब तक 03 चालू हो गया है. शेष सितंबर माह एवं अक्टूबर माह में पूर्ण करा लिया जायेगा. जिलाधिकारी द्वारा इनके कार्यों पर नाराजगी व्यक्त की गई तथा सभी वार्डों का दौरा कर स्थिति से अवगत कराने का निर्देश दिया गया.

जिलाधिकारी ने कार्य बाधित को सभी विवादित वार्डों का नाम अंकित करने का निर्देश दिये. मुखिया के द्वारा अभी तक राशि उपलब्ध नहीं कराने पर एफ आई आर दर्ज कराने का निर्देश दिया गया. उक्त योजना के अतिरिक्त जिलाधिकारी द्वारा हर घर तक पक्की गली नाली की भी समीक्षा की गई, तथा निर्देश दिया गया कि इसका भी कार्य नल के जल के तहत ही पूर्ण होते रहना चाहिए. आप तक लिए गए लक्ष्यों को माह अक्टूबर तक हर हाल में पूर्ण करने का निर्देश दिया गया. शिथिलता किसी भी बर्दाश्त नहीं की जायेगी. बैठक में डीआरडीए के निदेशक के साथ सभी कनीय अभियंता उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.