Input your search keywords and press Enter.

सड़क जाम की समस्या को लेकर डीएम-एसपी ने की बैठक, शेखपुरा डीएम ने पदाधिकारियों को दिया सख़्त निर्देश…..

बैठक करते डीएम एसपी फोटो

डीबीएन न्यूज /शेखपुरा(ललन कुमार)- बिहार के शेखपुरा जिले में सड़क जाम की समस्या को लेकर डीएम दिनेश कुमार और एसपी दयानन्द ने संयुक्त रूप से सभी थाना प्रभारियों के साथ बैठक की.इस बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों के बीच डीएम ने सख्त निर्देश जारी करते हुए कहा कि जिले में नो एंट्री का कड़ाई से पालन करवाएं. भारी वाहनों ट्रक, हाइवा समेत अन्य वाहनों पर पहले की तरह 8:00 बजे सुबह से 8:00 बजे शाम तक शहर में प्रवेश पर नो इन्ट्री बरकरार रहेगा.

बैठक की जानकारी देते हुए डीपीआरओ ने बताया कि डीएम ने सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने थाना क्षेत्र में नो इन्ट्री का कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया है. उन्होंने थाना अध्यक्षों को समझाते हुए कहा कि नो एंट्री का कड़ाई से पालन किए जाने पर जो भी थोड़ा-बहुत दुर्घटना का चांस रहता है वह खत्म हो जाएगा. थाना वाले हमेशा अलर्ट रहें. 8:00 बजे सुबह से 8:00 बजे शाम तक भारी वाहनों को शहर में एंट्री नहीं करने दे.


Widget not in any sidebars

वहीं बैठक में डीएम ने कहा कि कुछ सैप के जवानों को बरबीघा के मिशन ओपी में दिया गया है. ये सैप के जवान अपने पदाधिकारियों के साथ नो इन्ट्री कड़ाई से पालन करवाएंगे. साथ ही डीएम ने कहा कि टाउन के अंदर उत्पाद अधीक्षक के पुलिस बल शहर में चलने वाले बाईक हो या अन्य वाहन हो सभी की सघनता से जांच करेंगे.उन वाहनों में कहीं शराब तो छिपाकर नहीं ले जाया जा रहा है.

Loading...

वहीं डीएम ने डीटीओ को निर्देश दिया कि शहर में 12 वर्ष के लड़के भी टेंपो चला रहे हैं.इसकी सघनता से जांच कर कार्रवाई करें. डीएम ने कहा कि कुछ पॉइंट का निर्धारण किया गया है जहां से नो इन्ट्री का उल्लंघन होता है ,वह है सिरारी ओपी क्षेत्र, मिशन ओपी क्षेत्र, बरबीघा थाना क्षेत्र, मेंहूस थाना क्षेत्र, इन सभी थाना क्षेत्रों में नो एंट्री का कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए. यदि रात में कोई नो एंट्री में वाहन लेकर घुसने का प्रयास भी करता है तो सुबह में डीटीओ उत्पाद अधीक्षक और खनन पदाधिकारी इसकी जांच कर फाइन करेंगे और कार्रवाई करेंगे.

डीएम ने कहा की हथियावां ओपी क्षेत्र में सड़क के दोनों साइड ट्रक लगा रहता है जिससे वाहनों के आवागमन का क्षेत्रफल घट जाता है. हथियावां ओपी प्रभारी को निर्देश दिया गया कि पहले ट्रक चालक या मालिक को मना कर दें कि सड़क के दोनों साइड में ट्रक न लगाएं. यदि वे ऐसा करने से नहीं मानते हों तो कार्रवाई करें.वैसे ट्रक मालिको या चालकों को कह दें कि यदि उसे ट्रक लगाना ही है तो वह अपने घर में लगवाएं. रोड जाम नहीं होना चाहिए.

डीएम ने कहा कि हर 15 दिनों पर सड़क जाम की समस्या की समीक्षा की जाएगी. इस मौके पर जिले के सभी थाना प्रभारी ,सदर एसडीओ राकेश कुमार, अनुमंडल लोक शिकायत पदाधिकारी शंभू शरण सिंह, डीएसपी मुख्यालय मनोज कुमार सिंह समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.