Input your search keywords and press Enter.

सुहाग की रक्षा हेतु व्रत करने गई दर्जनों सुहागन महिलाएं मधुमक्खी काटने से हुई घायल,दो महिलाएं रेफर…

डीबीएन न्यूज/नालंदा(डीपीएस सिंह)-नालंदा जिला अंतर्गत बेन थाना के पदुम बिगहा में वट सावित्री पूजन करने गई दर्जनों महिलाएं मधुमक्खी काटने से घायल हो गई.

हुआ यह कि सुहागिनों ने वट सावित्री व्रत रखकर पति की लंबी आयु की कामना से सोलह श्रृंगार कर बरगद के पेड़ के नीचे मां सावित्री एवं सत्यवान की पूजा कर रही थी.विभिन्न तरह के फल, पुष्प एवं नौवेद आदि अर्पित कर रही थी.बाल में बरगद के पत्ते लगाकर बरगद के पेड़ में धागा लपेट कर परिक्रमा कर रही थी.धूप आदि भी जला रही थी. जब बांस एवं तार के बने पंखे से बरगद के पेड़ को हवा लगाने लगी तो धूप आदि का धुआं चारों ओर फैलने लगा. जब धूआँ पेड़ में लगे बड़ी मधुमक्खी के छत्ता तक पहुंचा तो सभी मधुमक्खियां इन व्रर्तियों पर टूट पड़ी.व्रतियों को भागने का मौका तक नहीं मिला. चारों और चिख चिलाहट मच गई.

Loading...

Widget not in any sidebars

देखते-देखते सभी व्रर्तियों सहित पंडित एवं बच्चे लोटपोट होने लगे.चारों ओर चिल्लाहट मची हुई थी.दर्द के मारे सभी इधर-उधर गिर रहे थे.यह खबर गांव तक पहुंचने पर ग्रामीणों द्वारा निजी गाड़ी से सभी को पीएचसी बेन में भर्ती कराया गया. जिसमें दो की हालत गंभीर रहने के कारण बिहार शरीफ सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया है.

पीएचसी बेन के प्रभारी सतीश कुमार ने बताया कि पदुम विगहा में मधुमक्खी काटने से 32 महिलाओं एवं बच्चों का इलाज पीएचसी बेन में चल रहा है. उन्होंने बताया कि घायलों में गिरिजा देवी, मीना देवी, आशा देवी, प्रिया कुमारी, रंजू देवी, रेनू देवी, अर्निका कुमारी, सरिता कुमारी,रेनू कुमारी,गुंजा कुमारी, गीता देवी, अंजू देवी एवं बच्चे तनुजा कुमारी,विनीत कुमार, प्रियांशु कुमार ,आयुष कुमार, निशा कुमारी,पीहू कुमारी आदि शामिल हैं.घायलों के हालात में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.