Input your search keywords and press Enter.

शेखपुरा में भारत बंद के दौरान पुलिस मांद में घुसी रही, बंद समर्थक उत्पात मचाते रहे,आगजनी कर किया सड़क जाम…

डीबीएन न्यूज/शेखपुरा(ललन कुमार)- सुप्रीम कोर्ट के द्वारा एससी-एसटी कानून में बदलाव किए जाने को लेकर आज भारत बंद के दौरान सड़कों पर उत्पात होता रहा लेकिन पुलिस अपने मांद में घुसी रही. बंद समर्थकों को नियंत्रित करने के लिए कहीं भी पुलिस व्यवस्था नहीं दिखी. बंद समर्थकों में राजद, सीपीआई हम और भीम सेना के कार्यकर्ता सुबह से ही सड़कों पर उतर कर दलित के हितों के पक्ष में शहर के त्रिमुहानी चौक पर टैक्टर,बांस और पत्थर से सड़कों को पूरी तरह जाम कर यातायात बाधित कर दिया.इस दौरान मरीजों को काफी परेशानी हुई.

कई जगह वाहन चालकों और समर्थकों के साथ नोकझोंक होती रही. राजद के प्रदेश नेता विजय सम्राट द्वारा बाइक पर सवार होकर राजद के झंडे के साथ दुकान बंद कराते दिखे. वहीं दल्लू चौक पर सीपीआई के जिला सचिव प्रभात कुमार पांडेय और भाजपा नेता नवल पासवान के नेतृत्व में जमकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई. इस दौरान सड़कों पर वहां टायर जलाकर एससी -एसटी कानून में बदलाव को लेकर विरोध जताया गया .

Loading...

शहर के कॉलेज मोड़ पर भी एससी एसटी कानून में बदलाव को लेकर SC- ST से जुड़े संगठनों ने हाईवे को पूरी तरह से जाम कर दिया .इस दौरान कई महिला मरीजों ने बंद समर्थकों से जाने का रास्ता के लिए गिड़गिड़ाती दिखी. बंद समर्थकों के डर से दुकानदारों ने भी अपनी दुकानें बंद रखी. वही चांदनी चौक के पास बंद समर्थकों के द्वारा वाहन के शीशे भी तोड़े गए .पूरे शहर में बंद समर्थक घूम घूम कर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया. विरोध जताया.

बंद समर्थकों में राजद के विजय यादव के नेतृत्व में बिहटा के पास सड़क जाम कर यातायात बाधित किया गया. कई वाहनों के चालकों के साथ नोकझोंक भी होती दिखी .लेकिन बंद समर्थक एक ही बात की मांग कर रहे थे कि सुप्रीम कोर्ट ने जो SC- ST कानून में बदलाव किया है वह अपना फैसला वापस ले अन्यथा चरणबद्ध और आगे आंदोलन होगा .

वहीं बीजेपी के जिला महामंत्री नवल पासवान ने कहा की उनकी लड़ाई सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ है सुप्रीम कोर्ट ने जो कानून में संशोधन कर SC- ST के लोगों के साथ अन्याय किया है उसके विरोध में आज सड़कों पर भीम सेना जैसे विभिन्न दलित संगठन उतर विरोध जता रहे हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.