Breaking News
March 19, 2019 - लगता हैं कांग्रेस सिन में नही, अब लेफ्ट से चल रही बात
March 19, 2019 - जदयू के इस सांसद ने किया नामांकन
March 19, 2019 - गया से टिकट कटने के बाद BJP सांसद ने लगाया बड़ा आरोप
March 19, 2019 - अब गिरिराज सिंह को मिला नीतीश सरकार के मंत्री का साथ, दिया यह बड़ा बयान
March 19, 2019 - आंध्रप्रदेश के सिएम ने PK को बताया बिहारी डकैत, प्रशांत किशोर ने भी दिया मुहतोड़ जवाब
March 19, 2019 - 4 बजे तक का अल्टीमेटम, कांग्रेस नेताओं ने उठाया यह कदम
March 19, 2019 - 5 सालों में सबसे ज्यादा बढ़ी शत्रुघ्न सिन्हा की संपत्ति, जान रह जायेंगे हैरान
March 19, 2019 - कांग्रेस के नाक नुकुर से तेजस्वी गुस्से में
March 19, 2019 - कैंसर उत्तरजीवी ओं के प्रति सामाजिक तथा मानवीय उत्तरदायित्व का निर्वहन
March 18, 2019 - गिरिराज सिंह को जवाब देने के लिए बीजेपी ने लगाया भूमिहार नेताओं को, अब सीपी ठाकुर के बेटे ने दी नसीहत

महागठबंधन में सबकुछ ठीक नहीं, हम नेता ने बताया दर्द, मुकेश सहनी भी नराज?

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

बिहार महागठबंधन में सीट शेयरिंग का फॉर्मूला लगातार उलझ रहा है. महागठबंधन में सीट बंटवारे से पहले सहयोगी दलों की नाराजगी कम होती नहीं दिख रही. दिल्ली में हुई बैठक के बाद सीट शेयरिंग को लेकर सहमति की खबर आई. इसके साथ ही माहागठबंधन के प्रमुख घटक और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की नाराजगी की खबरें सामने आईं है. इस बाबत हम नेता हम नेता महाचंद्र सिंह ने बड़ा बयान दिया है.

सूत्रों के मुताबिक सीटों के बंटवारे से मांझी खुश नहीं हैं. उन्हें पसंद की सीटें न मिलने और कम सीटें मिलने को लेकर नाराजगी है. सूत्र बता रहें है कि जीतन राम मांझी को एक सीट ऑफर हुई है, जबकि मांझी 2 सीटें मांग रहे हैं. मांझी की नाराजगी पर हम नेता महाचंद्र सिंह ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा- विनाश काले विपरित बुद्धि. बिहार में महागठबंधन के ही एक अन्य घटक दल यानी विकासशील इंसान पार्टी के मुखिया मुकेश सहनी ने भी खुद चुनाव नहीं लड़ने का मन बनाया है.

दिल्ली में हुई हाई लेवल की बैठक के बाद सहनी ने कहा कि सीटों को लेकर 95 फीसदी बातचीत फाइनल हो चुकी है. जिसकी घोषणा रविवार को पटना में होगी. लेकिन साथ में ये भी कहा कि मेरे चुनाव लड़ने की उम्मीद कम ही है. सहनी ने कहा कि घोषणा से पहले एक बार फिर सभी पार्टियों के नेता आपस में मिलेंगे.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *