Input your search keywords and press Enter.

पूर्व सांसद शरद यादव ने केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर साधा निशाना,कहा

डीबीएन न्यूज/मुजफ्फरपुर(मो साकिब)- देश मे नोटबंदी व जीएसटी से देश के व्यापारी और आम जनता को परेशानी उठानी पड़ी. इससे देश का कुछ भी भला नहीं हुआ. मनरेगा, इंदिरा आवास योजना सब डिजिटल इंडिया की भेंट चढ़ गए.

ये बातें पूर्व सांसद शरद यादव ने रविवार को गायघाट के मिश्रौली में पत्रकारों से कहीं.उन्होंने केंद्र सरकार पर गरीब व किसान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि मूंग-मसूर आदि दाल की सही कीमत किसान को नहीं मिल रही है. गेहूं-मक्का का भी न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ नहीं मिल रहा. सरकार की गलत नीतियों के कारण किसान अपना अनाज औने-पौने दाम में बेच रहे हैं.

Loading...

Widget not in any sidebars

देश भर के किसान सरकार की गलत नीतियों का शिकार हो रहे हैं. इसका खामियाजा एनडीए को भुगतना होगा. बैंकों की हालत पस्त है. दस लाख करोड़ रुपये का कर्ज एनपीए बन चुका है. देश अभी नाजुक दौर से गुजर रहा है.

उन्होंने बिहार सरकार पर भी कटाक्ष करते हुए कहा कि सरकार ने मिट्टी-गिट्टी व बालू पर रोक लगा रखी है. इसका नतीजा अगले चुनाव में दिखेगा. कहा कि बिहार में शराब धंधेबाज मोटे हो रहे हैं और आम लोग को हर तरह से लूटा जा रहा है. सात निश्चय योजना लाकर बिहार सरकार ने पंचायती राज संस्था को बौना और अपाहिज बना दिया है.

मौके पर पूर्व सांसद अर्जुन राय, पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य निरंजन राय, जीतेन्द्र कुमार व शिवशंकर राय भी थे. इससे पहले कार्यकर्ताओं ने केवटसा चौक पर उनका भव्य स्वागत किया. वे मधेपुरा से पटना लौट रहे थे.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.