Input your search keywords and press Enter.

पूर्व राजद विधायक कुंती देवी ने की थी JDU नेता की हत्या, 23 जनवरी को सुनाई जाएगी सजा

चर्चित सुमारीक यादव हत्याकांड में अतरी की पूर्व राजद विधायक कुंती देवी दोषी करार दी गई हैं। 23 जनवरी को सजा के बिंदुओं पर फैसला होगा। मंगलवार को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश संगम सिंह के न्यायालय में पेशी के लिए भारी भीड़ के बीच पूर्व विधायक कोर्ट लाई गईं। लोगों को हैरत तब हुई जब उन्‍हें व्‍हीलचेयर पर देखा।

बहरहाल कोर्ट ने उन्‍हें न्‍यायिक हिरासत में गया केंद्रीय कारागार भेजने का आदेश दिया। पूर्व विधायक के अधिवक्ता शकील अहमद एवं अरुण कुमार ने न्यायालय से प्रार्थना की कि उन्हें जेल में मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई जाए।इससे पूर्व अभियोजन की ओर से अपर लोक अभियोजक मसूद मंजर ने बहस की। न्यायाधीश को बताया कि सभी गवाहों ने अभियोजन के पक्ष में गवाही दी है। सुमारिक यादव की हत्या राजनीति के तहत कर दी गई थी।

घटना 26 फरवरी 2013 की है। उस दिन सुमारिक यादव जदयू (JDU)कार्यालय से विजय यादव एवं अन्य लोगों के साथ घर जा रहा था। रास्ते में ही कुंती देवी, उनके पुत्र रंजीत यादव, विवेक कुमार, रंजीत के साला पंकज यादव एवं अन्य चार पांच लोगों ने उसे रोक लिया। कुंती देवी बोली कि मारो इसको, इसी के कारण चुनाव हार गए हैं।

इसके बाद सभी ने मिल कर सुमारिक यादव को लाठी व रॉड से मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया था। अस्पताल ले जाने के क्रम में उसकी मौत हो गई थी। सुमारिक यादव के भाई विजय यादव के बयान पर नीमचक बथानी थाना में प्राथमिकी ( 21/2013) दर्ज कराई गई थी।