Breaking News
May 20, 2019 - नीरज कुमार ने तेजस्वी पर दागे सवाल, क्या आप नही चाहते कि लालूजी जेल से निकले ?
May 20, 2019 - एग्जिट पोल देख फूले नहीं समा रहे गिरिराज सिंह, शुरू किया विपक्ष पे हमलों का सिलसिला
May 20, 2019 - एग्जिट पोल पे मायावती और अखिलेश ने साधी चुप्पी, घंटे भर हुई मायावती के घर पे बैठक
May 20, 2019 - तेजस्वी ने एग्जिट पोल को लेके कही ये बड़ी बात
May 20, 2019 - एग्जिट पोल देख तेजस्वी पर गुस्से में पप्पू यादव
May 20, 2019 - एग्जिट पोल ने लालू परिवार को कर दिया खामोश
May 19, 2019 - नाराज मत होइए, बाकी चैनलों का भी बिहार का एग्जिट पोल देख लीजिये
May 19, 2019 - DBN Exit Poll रिजल्ट बिहार: एनडीए को बड़ी बढ़त
May 19, 2019 - सभी राज्यों का देखिये Exit Poll
May 19, 2019 - मनेर में रामकृपाल समर्थक मीसा पर भारी

हर घर नल का जल की खुली पोल, 16 लाख से बनी टंकी पानी भरते ही गिर गई

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

बिहार में सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट हर घर नल का जल की पोल खुल गई है. योजना में बड़े स्तर पर कमीशनखोरी और लूट का का मामला सामने आया है. मामला मुंगेर से जुड़ा है जहां हर घर लगवाई गई पानी की टंकी उदघाटन के महज कुछ ही घंटे बाद जमींदोज हो गई. वार्ड क्रियान्वयन समिति द्वारा इस टंकी का 16 लाख 54 हजार रुपये से निर्माण किया गया था और जलमीनार पर रखा गया था.

इस दौरान न तो 10 हजार लीटर की क्षमता वाली प्लास्टिक का टंकी बची और न ही उसे रखने वाला लोहे का बेस और एंगिल. मामला मुंगेर के सदर प्रखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत नौवागढ़ी दक्षिणी के वार्ड संख्या 10 का है. मामले की जानकारी अधिकारियों को मिली तो सदर बीडीओ ने नोटिस जारी करते हुए 40 घंटे में पेयजल की व्यवस्था को बहाल करने का आदेश जारी कर दिया.

बताया जात जाता है कि सदर प्रखंड नौवागढी दक्षिणी पंचायत के वार्ड संख्या 10 बारिश टोला में वार्ड क्रियान्वयन समिति के सदस्यों द्वारा सूर्यनारायण महतो के जमीन पर जलमीनार एवं पाइप द्वारा जलापूर्ति निर्माण कार्य के तहत 16 लाख 54 हजार रुपये की लागत से टंकी लगवाया गया था. जलमीनार के लिए लोहे का स्टैंड एवं बेस बनाया गया था. स्टैंड पर दो बड़ी-बड़ी टंकी रखी गई थी जो गुणवत्ता विहीन थी.

कार्य समाप्त होने पर मंगलवार को इसका उदघाटन पूजा अर्चना के साथ मुखिया विभा देवी तथा वार्ड सदस्य निर्मला देवी सहित इन लोगों ने संयुक्त रूप से किया. पूजा अर्चना के बाद जलमीनार की मशीन को दो प्लास्टिक की टंकियों को पानी से भरने के लिए चालू किया गया. मशीन चालू होने के 20 से 25 मिनट बाद जलमीनार पानी का भार लोहे के स्टैंड तथा बेस पर पड़ा तो लोहे का एंगल तथा बेस टूट गया. इस कारण पानी की दोनों टंकियां सहित अन्य सामग्री गिर कर नष्ट हो गई.

सूचना मिलने पर सदर प्रखंड बीडीओ ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच की तथा वार्ड क्रियान्वयन समिति को 40 घंटे के अंदर जलमीनार का पानी आपूर्ति करने का निर्देश दिया गया है. अधिकारी ने कहा कि अगर वार्ड क्रियान्वयन समिति 40 घंटे के अंदर पानी की आपूर्ति लोगों के घरों तक नहीं करती है तो वार्ड क्रियान्वयन समिति सहित योजना में लिप्त दोषी लोगों पर एफआईआर दर्ज किया जाएगा.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *