Input your search keywords and press Enter.

सरकार के विरोध में साक्षरता प्रेरक समन्वयक संघ ने बनाया मानव श्रृंखला,सरकार के खिलाफ किया जंग-ए- एलान

डीबीएन न्यूज/अररिया(अल्लामा ग़ज़ाली) गुरूवार को बिहार सरकार के विरोध में बिहार राज्य साक्षरता प्रेरक समन्वयक संघ कर्मियों द्वारा मानव श्रृंखला बनायी गई.मानव श्रृंखला की लंबी लाइन तकरीबन 500 मीटर थी.

मीडिया से बातचीत करते हुए जिला लोक शिक्षा समिति के सचिव प्रो•बासुकीनाथ झा ने कहा कि साक्षरता मिशन के तहत 1997 से हमलोग महिलाओं को घर-घर जाकर साक्षर बनाने का कार्य किया. इतना ही नहीं साक्षरता दर को बढ़ाने के लिए नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को शिक्षा के प्रति जागृत किया. आपलोगों को याद होगा जब शराबबंदी हुई थी, उस समय यही साक्षरता प्रेरक सरकार की बातों को आमजनों तक पहुंचाया.दहेज़ प्रथा व बाल विवाह पर बनायी गई मानव श्रृंखला को सफल बनाने में इन प्रेरकों के योदगान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है.

Loading...

Widget not in any sidebars

आज बिहार सरकार हमलोगों पर ही कारवाई कर रही है. निकम्मी सरकार पुरानी बातों को भूल गई है.श्री झा ने कहा है कि हमलोगों का मुख्य तीन मांगें हैं साक्षरता प्रेरक को समान काम का समान वेतन दिया जाए. सेवा नियमित किया जाए और प्रेरकों पर जो कारवाई हो रही है उसे अविलंब वापस लिया जाय.

अन्यथा पुरे बिहार के साक्षरता प्रेरक समन्वयक संघ कर्मियों द्वारा सरकार का घेराव करेंगे. जानकारी देते हुए प्रखंड समन्वयक प्रेरक सुष्मिता ठाकुर ने बताया कि कल हमलोग सरकार के दोहरी नीति को लेकर मौन जुलूस निकालेंगे. मानव श्रृंखला में लगभग दो हज़ार प्रेरक शामिल हुए.सभी लोगों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए थाली बजाते हुए विरोध प्रदर्शन किया.

श्रीमती ठाकुर ने कहा कि सरकार के हर पलान को हमलोगों ने जन-जन तक पहुँचाने का कार्य किया,परंतु इसका लाभ अब तक हमलोगों को नहीं मिला. पिछले 24 माह का मानदेय नहीं मिला है.यदि सरकार मांगे पूरी नहीं की तो चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.