Input your search keywords and press Enter.

भारत बंद के नाम पर प्रदर्शनकारियों का नंगा नाच!

डीबीएन न्यूज/नालन्दा(डीएसपी सिंह)-अनुसूचित जाति व जन जाति एक्ट के मामले में अदालत में केंद्र सरकार द्वारा सही से अपना पक्ष नहीं रखने का विरोध स्वरूप 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री के गृह जिला नालन्दा में बंद समर्थकों ने जमकर तोड़-फोड़ की.सड़क पर वाहन नहीं चले तथा खुले दुकान भी बंद करा दिए गए.

आज सुबह से ही बिहार शरीफ के हॉस्पिटल चौक, अंबेडकर चौक ,राजगीर मोड़ तथा 17 नंबर चौराहा को आंदोलनकारियों ने जाम कर दिया ,जिससे कोई वाहन भी आ -जा नहीं सके. शहर में चलने वाले तिपहिया तथा इलेक्ट्रॉनिक रिक्शा वाहन भी नहीं चले.

सुबह से ही आंदोलनकारी झुंड बनाकर खुली दुकानों को बंद कराने में लगे हुए थे. करीब 12:00 बजे जुलूस हॉस्पिटल चौराहा से रांची रोड की ओर निकला तथा खुली दुकानों को बंद कराने के नाम पर लाठी डंडों से काउंटर एवं शोकेस पर बरसाना शुरू कर दिया.भगदड़ मच गई. लोग अफरा-तफरी में अपनी दुकान बंद करने में लग गए.जब रांची रोड से जुलूस भराव पर महात्मा गांधी सड़क की ओर आने लगी तो भराब चौराहा पर भी की दुकानों पर लाठी- डंडा से प्रहार कर सोकेस तथा काउंटर पर हमला कर दिया,जिससे एक दर्जन से अधिक दुकान क्षतिग्रस्त हो गया.

Loading...

प्रदर्शनकारी का तांडव सुशासन बाबू के पुलिस के सामने होता रहा तथा पुलिस मूक दर्शक होकर सिर्फ तमाशा देखती रही.लग रहा था मानों प्रदर्शनकारियों को प्रशासन की खुली छूट मिली हुई हो.
करीब ३०० से अधिक संख्या में बंद समर्थकों ने रांची रोड स्थिति एक आइसक्रीम की दुकान ,भराव पर चौराहा के पास खिलौने की दुकान, सन पापड़ी की दुकान, जनरल स्टोर की दुकान, जूते की दुकान ,कपड़े की दुकान के शोकेस का शीशा तोड़ डाले .

जुलूस आगे बढ़ती जा रही थी तथा खुले दुकान पर अपना गुस्सा निकाल रही थी . पुलिस पीछे- पीछे चल रही थी. प्रदर्शनकारी बंद दुकानों के साइन बोर्ड को भी तोड़ डाले. पालिका मार्केट स्थित एक फल की दुकान पर भी जमकर तोड़ -फोड़ की गई .जुलूस के भय के कारण खुली दुकान बंद होने लगी. दुकानदारों का गुस्सा पुलिस प्रशासन पर निकल रहा था.

अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति संघर्ष मोर्चा के आह्वान पर बुलाई गई भारत बंद का समर्थन कांग्रेस, राजद ,भाकपा माले तथा हम सहित विपक्षी पार्टियों ने किया था.वहीं जिला के राजगीर में श्रमजीवी एक्सप्रेस को रोका गया तो चंडी के जैतीपुर मोड़ पर टायर जलाकर आवागमन बाधित किया गया.नुरसराय के डोईया मोड़ पर सड़क जाम किया गया तो रैतर में एन एच 31 को जाम किया गया तो एकंगर सराय में भीम सेना ने बाजार बंद किया. कतरीसराय के कतरीडीह मोड़ पर दलित एकता मंच के समर्थकों ने एनएच 71 को घंटो जाम रखा.बंद समर्थकों ने दूकान,सड़क के साथ-साथ पेड़ों को भी काफी नुकसान पहुँचाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.