Input your search keywords and press Enter.

शेखपुरा डीएम पदभार ग्रहण करते ही कार्यालयों का किया निरीक्षण ,मची हड़कंप ,कई कर्मियो को हुई स्पष्टीकरण…

पत्रकारों से करते हुए डीएम फोटो

डीबीएन न्यूज/शेखपुरा(ललन कुमार)- शेखपुरा में पदभार ग्रहण करते ही नए डीएम योगेंद्र सिंह ने बुधवार को कई कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया. औचक निरीक्षण के दौरान उनकी कड़क शैली भी दिखी. कई विभागों के निरीक्षण करते हुए जब योजना विभाग में डीएम ने पहुंचा तो वहां मौजूद महिला बड़ा बाबू के पास एक अज्ञात शख्स द्वारा बैठकर पेपर पढ़ते रहने का उन्होंने वहां आंखों देखी हाल देखा. इस दौरान महिला बड़ा बाबू को उन्होंने जमकर डांट पिलाई. साथ ही उन्होंने अपनी कार्यशैली से उसे अवगत कराया.

डीएम के प्रवेश करते ही योजना विभाग में अखबार पढ़ रहे युवक फरार हो गए. इसी बीच सुरक्षाकर्मियों ने उसे बुलाकर वापस डीएम के पास हाजिर किया. उसकी पूछताछ करने के बाद महिला बड़ा बाबू से जान पहचान होने की बात कह डाली. वह अपने आप को सांसद प्रतिनिधि की हैसियत से कार्यालय आने की बात डीएम को बताया. फिर किसी तरह से उस युवक को मुक्त कर दिया गया .


Widget not in any sidebars

वहां से निकलते ही डीएम अपने कार्यालय कक्ष में सीधे प्रवेश कर गए. कार्यालय पहुंचते ही कई विभागों के अधिकारियों को बुलाकर अपनी कार्यशैली से अवगत कराया. इस दौरान डीएम के पास मौजूद रहे राज्य खाद्य निगम के जिला प्रबन्धक की समीक्षा के दौरान क्लास भी लगाई. बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता और सहायक अभियंता से दीन दयाल उपाध्याय विद्युत योजना के संबंध में अधतन रिपोर्ट मांग करते हुए उनकी भी क्लास लगा दी.

Loading...

उन्होंने मीडिया कर्मियों से रूबरू होते हुए उपस्थित सभी मीडिया कर्मियों से परिचय प्राप्त किया और अपना भी परिचय दिया. उन्होंने मीडिया कर्मियों से ज जिला की समस्याओं का फिड बैक लिया. फीडबैक लेने के उपरांत कई मीडिया कर्मी जिले में भीषण जल संकट रहने की भी बात डीएम को बताई. शहरी जलापूर्ति योजना के तहत घरों में पानी नहीं पहुंचने को लेकर मीडिया कर्मियों ने डीएम के पास जोरदार आवाज उठाई . डीएम ने मीडिया कर्मियों को आश्वस्त किया कि जिले में भीषण जल संकट की समस्या का समाधान किया जाएगा .

वही शिक्षा व्यवस्था पर भी मीडिया कर्मियों ने डीएम के सामने सवाल उठाया. डीएम ने खुद शिक्षा व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए विद्यालयों का निरीक्षण करने की बात बताई. इसी बीच स्वास्थ्य व्यवस्था पर भी सवाल उठाया गया. डीएम ने स्वास्थ्य व्यवस्था को भी पटरी पर लाने की बात कही. उन्होंने अपने निरीक्षण के दौरान बताया कि यहां कार्यालयों में अनाधिकृत रूप से कर्मी फरार थे. यह बर्दाश्त नहीं की जाएगी . कर्मियों को समय पर कार्यालय आने का भी निर्देश दिया.उन्होंने बताया कि योजना विभाग में निरीक्षण के दौरान सफाई का अभाव दिखा. अनावश्यक रुप से कार्यालयों में लोग बैठे दिखे. इस पर उनसे स्पष्टीकरण पूछने का निर्देश दिया गया है.

इसी तरह कई विभाग के कर्मियों को स्पष्टीकरण करने का निर्देश दिया है. डीएम ने अपनी प्राथमिकता में जिले की समस्याओं का समाधान रखा है .खासकर सड़क जाम की समस्या ,बिजली की समस्या प्रधानमंत्री आवास योजना समय पर लाभुकों को मिल सके समेत अन्य बातों को मीडिया के सामने रखा. डीएम ने समाहरणालय के अंदर मौजूद सीसीटीवी और बायोमेट्रिक सिस्टम पर समाधान करने की बात कही.

इस दौरान डीडीसी निरंजन कुमार सिंह, जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी जवाहर लाल सिन्हा, जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी योगेंद्र कुमार लाल समेत अन्य लोग मौजूद रहे.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.