Input your search keywords and press Enter.

हमारे कार्यकाल में अभी तक ऐसा नहीं हुआ, भाजपा के कारण मंत्रिमंडल विस्तार में देरी- CM नीतीश

बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार में भाजपा के कारण देर हो रही है। भाजपा की ओर से अबतक इस संदर्भ में कोई प्रस्ताव नहीं दिया गया है। भाजपा की ओर से प्रस्ताव आने के बाद ही विस्तार होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की इस संदर्भ में दो टूक टिप्पणी का यही लब्बोलुआब है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार में उनके कार्यकाल में पहले ऐसा कभी नहीं हुआ है कि मंत्रिमंडल विस्तार में इतनी देर हुई हो। उन्होंने कहा कि हमेशा से हम शुरुआत में ही पूरे मंत्रिमंडल का विस्तार कर देते थे। मुख्यमंत्री मुख्य सचिवालय से समीक्षा बैठक करने के बाद पत्रकारों के सवाल का जवाब दे रहे थे।

सीएम से जब यह पूछा गया कि गुरुवार को आपसे भाजपा बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल और दोनों उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद व रेणु देवी मिले तो मंत्रिमंडल विस्तार पर बात हुई या नहीं, उन्होंने कहा कि इस विषय पर भाजपा नेताओं ने कोई बात नहीं की। बिल्कुल सहज और सामान्य बातें हुई हैं।

बिहार में हमलोग जो काम कर रहे हैं, उसपर बातचीत हुई। जो हमलोगों का लक्ष्य है, उन्हीं सब बातों पर चर्चा हुई, पर मंत्रिमंडल विस्तार पर बात नहीं हुई। कोई राजनीतिक बात नहीं हुई है। कहा कि जबतक उन लोगों (भाजपा) की राय नहीं आ जाएगी, तबतक मंत्रिमंडल विस्तार नहीं होगा। भाजपा की रिपोर्ट आ जाएगी, तो उसी आधार पर मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा।