Input your search keywords and press Enter.

लालू से मिले झारखंड के मुख्यमंत्री, इस मुद्दे पर हुई बात

जातीय जनगणना के मुद्दे पर सियासत गर्म है.बिहार में भाजपा को छोड़ अन्‍य सभी दल सुप्रीम कोर्ट में दिए गए केंद्र सरकार के जवाब से नाराज हैं. वे हर हाल में जातीय जनगणना की मांग पर अड़े हैं.राजद सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने कहा कि इसके लिए लड़ाई जारी रहेगी.जातीय जनगणना हर हाल में होकर रहेगी.प्रधानमंत्री ने कहा था कि मैं देखूंगा.लेकिन क्‍या हो रहा है. झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन से शनिवार रात हुई मुलाकात के बाद राजद सुप्रीमो ने यह बात कही.हेमंत सोरेन ने भी कहा कि जातीय जनगणना बहुत जरूरी है.

झारखंड के सीएम ने भी जातिगत जनगणना का किया समर्थन

दिल्‍ली में लालू प्रसाद यादव से मिलने पहुंचे हेमंत सोरेन ने कहा कि लालू जी उनके गार्जियन हैं.यह पहली मुलाकात तो नहीं है.गार्जियन से आदमी क्‍या बात करता है.वह भी राजनीतिक मार्गदर्शक से.इस दौरान बगल में खड़े लालू प्रसाद मुस्‍कुराते रहे.हेमंत सोरेन ने कहा कि आज के समय में जिस तरीके से विकास के पैमाने खीचे जा रहे हैं.उसमें कई लोग आगे निकल रहे हैं.कुछ लोग पीछे छूट जा रहे हैं.असामानताएं नहीं रहे, इसके लिए जातिगत जनगणना बहुत जरूरी है.हर वर्ग की भागीदारी होनी चाहिए.झारखंड के सीएम ने कहा कि जब तक केंद्र की बात सीधे तौर पर नहीं पहुंचे, कुछ बताना सही नहीं होगा.बता दें कि नक्‍सल प्रभावित राज्‍यों के सीएम की गृहमंत्री अ‍मित शाह के साथ होने वाली बैठक में शामिल होने पहुंचे हैं.

बता दें कि जातिगत जनगणना के मुद्दे पर एनडीए की सहयोगी वीआइपी ने कहा है कि राज्‍य सरकार अपनी ओर से यह कराए. इसके लिए पार्टी फंड से उन्‍होंने पांच करोड़ रुपये देने का ऐलान कर दिया.इधर हम के मुखिया और पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने कहा है कि उन्‍हें प्रधानमंत्री पर अब भी उम्‍मीद है.