Input your search keywords and press Enter.

केरल बाढ़ प्रभावित लोगों को iib.org देगी 25 हज़ार ₹ सहायता राशि

अररिया (अल्लामा ग़ज़ाली)

रविवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर iib.org अररिया के अध्यक्ष श्री अनीसुर्रहमान ने कहा आईआईबी की ओर से केरल के बाढ़ प्रभावित लोगों को 25 हजार दिया जाएगा।केरल में आयी भीषण बाढ़ में तकरीबन 2100 लोगों की शव मिली है ,आए दिन लाशों की संख्या बढ़ते रहना और सरकार की ओर से अभी तक मुआवजा राशि के नाम पर खानापूर्ति करना निंदनीय है.दूसरी और केरल सरकार ने पूरे भारत वासियों से आह्वान किया है कि केरल के14 जिले में से 13 जिला पूर्ण रूप से बाढ़ प्रभावित है.साथ ही साथ केरल सरकार अकाउंट नंबर जारी कर हिंदुस्तान के आमजनों से आग्रह किया है कि बाढ़ पीड़ितों की सहायता हेतु कुछ भी राशि केरल कोषांग देने का आग्रह किया है.केरल के आम -अव्वाम को बचाने के लिए पहल करने की बात कही है.

iib.org के सक्रिय सदस्य आशिफ नूर ने सरकार से मांग किया है कि बाढ़ में मारे गए लोगों को सरकार द्वारा घोषणा की गई दो लाख मुआवजा राशि को बढ़ाकर 10 लाख सहायता राशि किया जाए और जिन लोगों का अधिक नुकसान हुआ है उन्हें एक एक लाख ₹ देने को कहा है.जानकारी देते हुए संस्था के अध्यक्ष श्री अनीसुर्रहमान ने कहा कि अब तक ₹25000 अररिया के नेक दिल इंसानों की ओर से iib.org के कोषांग में राशि जमा हो चुकी है ऐसी संभावना जतायी जा रही है कि 25000 से भी अधिक राशि केरल सरकार द्वारा जारी सरकारी सहायता कोष में भेजने की तैयारी चल रही है.श्री अनीस ने कहा कि आप तमाम अररिया वासियों से नम्र निवेदन है कि इलाके में पिछले वर्ष आयी प्रलयंकारी बाढ़ को देखते हुए उस मंज़र को याद करें कि सीमांचल के लोग किस तरह पानी में बह रहे थे! और अररिया के एक सौ अधिक लोग पानी में बह गए थे.

Loading...

उन्होंने कहा कि कई लोग ऐसे हैं जिनको अबतक मुआवजा नहीं मिला है,ऐसे लोग कार्यालय का चक्कर काट कर अपना जूता चप्पल तोड़वा लिए हैं.यहां बता दें कि आई• आई• बी• इससे पूर्व अररिया कटिहार पूर्णिया किशनगंज के बाढ़ प्रभावित लोगों की सहायता हेतु कई प्रकार की खाने योग्य सामान लाकर आम जनों के बीच पानी कीचर में जाकर प्रभावित लोगों को सहायता किया था.बताना आवश्यक है कि यह संस्था शुरुआती दौर से ही सामाजिक कार्य में आगे रहती है विशेषकर संस्था के अध्यक्ष अनीसुर रहमान आमजनों की समस्याओं को खत्म करने के लिए संघर्षरत रहते हैं इसके अलावा सक्रिय सदस्य अनीसुर रहमान ,आशिफ, नूर Hulchul उर्फ बाबर अन्य कार्यकर्ताओं का अहम योगदान रहता है.केंद्र सरकार का 500 करोड़ रुपए की सहायता राशि घोषणा करने पर आशिफ नूर ने कहा कि सरकार लाॅलीपाॅप दिखा रही है.बताते चलें कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी 17 अगस्त को हवाई सर्वेक्षण कर के विभिन्न जिला का दौरा कर मारे गए लोगों को सरकार ने तत्काल ₹200000 देने का ऐलान किया है हालांकि वैसे व्यक्ति जो सैलाब में डूबते हुए बच गए यानी गंभीर रूप से प्रभावित लोगों को तत्काल सरकार 50 हजार देगी.संस्था के सदस्यों ने सरकार से मांग किया है कि मुआवजा राशि को बढ़ाया जाय.

Leave a Reply

Your email address will not be published.