Input your search keywords and press Enter.

लखीसराय डीएम हुए सख्त,योजनाओं के क्रियान्वयन में कोताही पर नपेंगे अधिकारी….

डीबीएन न्यूज/लखीसराय(एस0 के0 गांधी)-जिला स्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक में अनुपालन प्रतिवेदन प्रस्तुत नहीं करने वाले विभागीय अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी. ये बातें आईएएस डीएम अमित कुमार ने विशेष बातचीत के दौरान कही .

उन्होंने कहा कि इसके पूर्व संबंधित नोडल पदाधिकारियों से भी जबाव तलब किया जाएगा.
विदित हो कि ग्रामीण कार्य, मनरेगा, जीविका, पीएमजीएसवाई, पीएमएएवाई, पीएम एवाई (जी), एनएसएपी , स्वच्छ भारत मिशन, राष्ट्रीय पेयजल कार्यक्रम, पीएमकेएसवाई, वाटर शेड प्रबंधन, जलापूर्ति मिनी प्लांट, एनआरडीडब्लूपी, कृषि, जलछाजन, खाद्य आपूर्ति, एमडीएम /एस एस ए(शिक्षा) , एन एल आर एम पी , स्वास्थ्य ( एन एच एम), आईसीडीएस, डीडीयूजीजेवाई(विद्युत), पीएम एफबीवाई, उज्जवला , डिजिटल इंडिया एवं आधार भूत संरचना – पथ सहित कुल 20 केन्द्र प्रायोजित योजनाओं की समीक्षा कल शनिवार को सांसद वीणा देवी ने की थी.सांसद के सख्ती के बाद आज रविवार की डीएम सख्त नजर आए. विभागवार संबंधित कार्यों की समीक्षा एवं स्थलीय भौतिक सत्यापन के कार्यों में तेजी से निपटाये जाने को लेकर जिला पदाधिकारी बिल्कुल सख्त दिखने लगें हैं .

Loading...

डीएम अमित कुमार ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य प्रायोजित योजनाओं का अक्षरश: अनुपालन करवाने के प्रति कटिबद्ध है . योजनाओं के क्रियान्वयन,
अनुपालन करवाने को लेकर स्वयं स्थलीय भौतिक सत्यापन करने की भी बातें कहीं.

जिलाधिकारी ने कहा कि विकास कार्यों की गुणवत्ता एवं शत-प्रतिशत क्रियान्वयन से कोई समझौता नहीं किया जाएगा. आवश्यकता अनुसार वे जिले के पंचायत वार कैम्प करके योजनाओं का अनुश्रवण भी करेंगे. सख्त डीएम ने कहा कि विकास कार्यों में गड़बड़ी करने वाले दोषियों पर नियमानुकूल सभी कार्रवाईयां किए जायेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.