Input your search keywords and press Enter.

लालू ने कहा मूस मोटइहें तो लोढ़ा होइहें, बोले- जल्‍दी आएंगे बिहार

राष्‍ट्रीय जनता दल आज पटना स्थित पार्टी कार्यालय में अपना 25वां स्थापना दिवस समारोह मनाया गया. इसमें कोरोनावायरस से बचाव की गाइडलाइन का ध्‍यान रखा गया.कार्यक्रम की शुरुआत भोजपुरी गीत के साथ हुई.पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने सांस्‍कृतिक सत्र के बाद औपचारिक उद्घाटन किया. फिर, उन्‍होंने रामविलास पासवान को श्रद्धांजलि दी.कार्यक्रम में अपने संबोधन में लालू ने कहा कि वे अब ठीक हैं और जल्‍दी ही बिहार आएंगे. उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि तेजस्‍वी के नेतृत्‍व में आरजेडी आगे बढ़ेगा.लालू व तेजस्‍वी ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को जमकर घेरा. लालू ने विरोधियों को अपने अंदाज में चेताते हुए कहा- मूस मोटइहें तो लोढ़ा होइहें.

लालू यादव का मुख्‍य भाषण दोपहर 1:20 बजे निर्धारित था, लेकिन इसमें विलंब हो गया. यह चारा घोटाला में सजायाफ्ता लालू प्रसाद का जमानत पर रिहा होने के बाद कार्यकर्ताओं से पहला सामूहिक संवाद था.हम जल्दी ही पटना आएंगे.पूरे बिहार में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे.मुझे खुशी है कि इतनी कम उम्र में तेजस्वी ने बिहार जैसे राज्य में पार्टी की नैया को पार लगाया. इतनी सीटें लाने की उम्मीद हमको पहले नहीं थी, लेकिन पार्टी के हर नेता ने स्वीकारा और सहयोग किया. तेज प्रताप के भाषण में भी दम है.राबड़ी और तेजस्वी नहीं होते तो हम रांची में ही खत्म हो जाते.दोनों प्लेन से दिल्ली ले गए.यहां डॉ. राकेश यादव ने काफी इलाज किया.अब बहुत ठीक हैं. जल्‍दी ही पूरा ठीक हो जाएंगे.सिर्फ पानी से परहेज है.हमने काम की गारंटी हमने दी. आरजेडी ने जब 10 लाख नौकरी देने का वादा किया तो कई ने कहा कि हम 19 लाख देंगे.उन्हें लगा कि कैसे लोगों को भरमाएं. अब दो नौकरी. सत्ता तुम्हारे हाथ में है.

एक ही दल है जिससे लोग समस्याओं का निजात पाएंगे.बिहार में ऐसी कोई जगह नहीं जहां रोज खून नहीं होता है.विरोधियों को चेताते हुए कहा कि हमलोग बोलते थे देहात में कि मूस मोटइहें तो लोढ़ा होइहें.सैकड़ों साल से एक तवे पर एकतरफा रोटी जल रही थी. हमने पलट दिया. इससे लोगों ने कहा कि जंगलराज आ गया.लाखों लोग बकरी-भैंस भेड़ चराने वाले पेट की मार से चरवाही करते हैं. मैंने कहा कि चरवाही चलते रहेगी और पढ़ाई भी चलेगी. चरवाहा विद्यालय खोला.इसका मजा‍क बनाया.देश पीछे जा रहा है. सामाजिक तानाबाना खंडित किया जा रहा है. नारा लगाया जा रहा है कि अयोध्या के बाद मथुरा। इसका क्या मतलब है? वे सत्ता के लिए लोगों को तबाह करना चाहते हैं, लेकिन हम पीछे हटने वाले नहीं हैं.टूट जाएंगे पर पीछे नहीं हटेंगे.

देश के ऊपर बड़ा आर्थिक संकट है.कोरोना के चलते देश हजारो साल पीछे चला गया। सबके मुंह में जाम लगाकर घरों में बंद हैं.तीसरा फेज आने वाला है.उससे लोग डर रहे हैं.जितनी मौत हुई है कोरोना से, उसकी गिनती नहीं की जा सकती है. बिहार में भी इलाज के अभाव में बहुत लोग मरे हैं. पटना में कोई आदमी नहीं जा रहा था. गांव में तो जो लोग मरे थे वे तो मरे हीं, शहरों में भी बहुत लोग मरे.अस्पतालों में प्रबंधन नहीं था.आरजेडी का भविष्य उज्जवल है. हम आगे देश का भी नेतृत्व करेंगे. वर्तमान सरकार देश के लिए अच्छी नहीं है.इतनी गरीबी. इतनी महंगाई. हमारी सरकार में अगर इस तरह दाम बढ़ता तो लोग जीना मुहाल कर देते. हमारी सरकार में महंगाई बढ़ने लगी तो साइकिल पर आफिस जाना शुरू कर दिया. महंगाई का असर गरीबों पर पड़ता है.

कर्पूरी ठाकुर को याद करते हुए कहा कि उनकी अंतिम यात्रा में हमलोगों ने नारा लगाया था कि ‘ठाकुर तेरे अरमानों को दिल्ली तक पहुंचाएंगे.’ हम कामयाब हुए. समाज में बराबरी दिख रही है.आरजेडी का भविष्य बहुत उज्ज्वल है. मैंने पांच-पांच प्रधानमंत्री को देखा. उन्हें बनाने में सहयोग किया. नीतीश कुमार बहुत व्याकुल थे. मैंने कहकर उन्हें केंद्र में मंत्री बनवा दिया था. पहले समाज में वंचित लोगों को बूथों तक नहीं जाने दिया जाता था.[पहली बार हमारी सरकार में उन्हें मौका मिला. जनता दल को पहले चक्का मिला था.नारा लगाते थे कि ‘जिसके पास चक्का बा, उसकी जीत पक्का बा’ हमारी अनुपस्थिति में चुनाव हुआ. हम तड़पते रह गए. हमें मलाल है. तेजस्वी से बात होती रहती थी। उसने कहा कि पापा चिंता मत कीजिए.हम लोगों से निपट लेंगे. समाजवादियों ने संघर्ष छेड़ा कि मंडल कमीशन लागू करो। उस समय की सरकार ने गाड़ी रोककर रास्ते में कुटाई कराई, फिर हम लोग दिल्ली पहुंचे. नारा बुलंद किया कि मंडल कमीशन लागू करो। इंडिया गेट से हमलोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि, बाद में रिहा कर दिया गया।रामकृष्‍ण हेगड़े के परामर्श से पार्टी का नाम राष्‍ट्रीय जनता दल रखा गया था.पार्टी के स्‍थापना काल से लगातार संघर्ष कर रहे .

किसानों का एमएसपी तय नहीं है, लेकिन डीएम का कमीशन तय है- 12 फीसद. बिहार में सनी लियोनी को पास कर दिया गया. हर चीज में बेईमानी. यहां बिना आरसीपी टैक्स के कोई काम नहीं होता है. आने वाले समय में तय करेंगे कि लोगों को रोजगार देंगे.उनके लिए सदन से सड़क तक संघर्ष करेंगे. लालू ने सामाजिक न्याय किया, हम आर्थिक न्याय करेंगे.आरजेडी एमवाई की पार्टी नहीं, बल्कि एटूजेड की पार्टी है.विरोधियों की चाल है कि आरजेडी को एमवाई तक सीमित कर दो.चुनाव में हमने कहा था कि 10 लाख नौकरी देंगे तो सवाल उठाया गया कि कहां से दोगे, लेकिन उन्हीं के सहयोगी दल बीजेपी ने 19 लाख लोगों को नौकरी देने का वादा किया तो नहीं पूछा गया.आज डाक्टरों और नर्सों की बहाली कर दी जाती तो कोरोना में ऐसी दुर्गति होती क्या? आज हर जगह पद खाली हैं, लेकिन नौकरी नहीं मिल रही है.लोग नौकरी मांगने आ रहे हैं तो उन्हें लाठी मारकर भगाया जा रहा है.बीजेपी पर तंज कसा कि विश्‍व की सबसे पार्टी के पास एक भी मुख्‍यमंत्री चेहरा नहीं था.आरजेडी ‘एम-वाई’ की पार्टी नहीं ए-टू-जेड’ की पार्टी है.हमें सभी वर्गों व संप्रदायों के लोगों ने वोट दिया है.सभी को मान-सम्मान देकर साथ लेकर चलना है.

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार संगठित घोटालों के भीष्‍म पितामह हैं.नीतीश कुमार को जनता ने मिट्टी में मिला दिया था. यह तो लालू जी ने उन्‍हें नया जीवन दिया था.पहले जब दंगा-फसाद होता था, तब एसपी के पहले मुख्‍यमंत्री पहुंच जाते थे, ताकि सद्भाव बना रहे. आज मुख्‍यमंत्री अपनी सुरक्षा में बंगले की चारदीवारी ऊंची करते हैं.कहा गया था कि अच्‍छे दिन आएंगे. आज महंगाई चरम पर है. यही अच्‍छे दिन हैं? पीएम मोदी की ओर इशारा करते हुए कहा कि कहा जाता था कि देश नहीं बिकने देंगे और आज देश काे बेचने का काम किया जा रहा है.

लालू ने रेलवे का विकास कर मैनेजमेंट गुरु के नाम से जाने गए. आज देखिए क्‍या हाल .आरजेडी को तोड़ने के लिए क्‍या-क्‍या कोशिश नहीं की गई.लेकिन यह लालू जी की बनाई पार्टी है.सत्‍ता जाने की बैचैनी वाले लोग जंगल राज का नारा देते रहे हैं.बिहार में सबसे बड़ी समस्‍या बेरोजगारी की है. सभी ने बेरोजगारी के खिलाफ लालू जी को वोट दिया.हम चाहते हैं कि वे बिहार आकर काम में लगें. वे कहीं भी रहें, बिहार को लेकर चिंतित रहते हैं.तेजस्वी की सरकार होती तो कोरोना में यह दुर्गति नहीं होती.लालू ने गरीबों के लिए नारा दिया कि पढ़ो या मरो. लालुबक इतिहास 25 साल का नही है.राजद के पहले से भी लालू का वजूद था.राजद की स्थापना से पहले भी लालू सत्ता में थे.उन छह वर्षों को भी समझना पड़ेगा। न हम शुरू हैं ना अंत.लालू के विचार हमेशा जिंदा रहेगा.

01:10 बजे: कार्यक्रम में बोले जगदानंद सिंह: आरजेडी ने 25 साल के इतिहास में गरीबों को सम्मान से जीने के लिए मौका दिया। नीतीश कुमार बिहार को नहीं संभाल सकते हैं।01:00 बजे: कार्यक्रम में बोले तेज प्रताप यादव: मैं पिक्‍चर का हीरो न हो जाऊं, इसके लिए आंदोलन में मुझे पीछे खींचा। जब-जब तेजस्‍वी को घेरा जाएगा, उसका यह कृष्‍ण उसकी रक्षा के लिए हमेशा खड़ा रहेगा। मैं तेजस्‍वी के लिए सबसे पहले गोली खाने को तैयार हूं।12:30 बजे: कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद लालू प्रसाद यादव ने रामविलास पासवान को याद किया। कहा कि पासवान उनके साथ मंत्री भी रहे। आज पासवान की जयंती के अवसर पर लालू ने उनके प्रति संवेदना प्रकट की।12:00 बजे: स्थापना दिवस के अवसर पर आरजेड़ी ने पार्टी का मुखपत्र ‘राजद समाचार’ जारी किया। तेजस्वी यादव ने इसका विमोचन किया। इसके माध्‍यम से पार्टी कार्यकर्ताओं तक अपनी बातों को पहुंचाएगी। इस अवसर पर पार्टी ने एक वीडियो जारी पिछले 25 सालों के अपने संघर्ष को भी दिखाया है।11:30 बजे: भोजपुरी गायक भरत शर्मा ने गीत गाने के दौरान तेजस्‍वी को आरजेडी का अध्‍यक्ष कह दिया। यह पंक्ति गायक ने दो बार गाया। अब इसे जुबान फिसलना बताया जा रहा है।11:10 बजे: लालू ने दिल्‍ली में अपनी बड़ी बेटी मीसा भारती के आवास से कार्यक्रम का उद्घाटन मोमबत्‍ती से दीप प्रज्ज्वलित करते हुए किया। उनके साथ बड़ी बेटी के अलावा पत्‍नी राबड़ी देवी भी मौजूद रहीं। पटना में राजद कार्यकर्ताओं ने इसका पूरा प्रसारण पार्टी दफ्तर में देखा। राजद के इंटरनेट मीडिया अकाउंट से भी इसका लाइव प्रसारण किया गया।