Input your search keywords and press Enter.

शराबबंदी से राज्य के राजस्व को नुकसान, सत्ता में आने पर करेंगे समीक्षा- कांग्रेस

बिहार चुनाव के लिए कई पार्टियों ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. महागठबंधन का हिस्सा कांग्रेस पार्टी ने भी बुधवार को अपना बदलावपत्र जारी किया, जिसमें कई बड़े वादे किए गए. इन्हीं से एक वादा कांग्रेस ने शराबबंदी को लेकर भी किया है. कांग्रेस का कहना है कि शराबबंदी के निर्णय की वो सत्ता में आने पर समीक्षा करेगी.

आपको बता दें कि कांग्रेस ने कहा है कि शराबबंदी से राज्य के राजस्व को नुकसान हुआ है, लेकिन सरकार इसके सकारात्मक उद्देश्य से भटक गई है. इसके कारण राज्य में अवैध व्यापार हो रहा है और पुलिस को लाभ पहुंचा है, जबकि जनता अभी भी परेशान ही है. ऐसे में सत्ता में आने पर इसकी सही से समीक्षा की जाएगी.

गौरतलब है कि शराबबंदी के फैसले को नीतीश सरकार ने लागू किया था और इसे एक बड़ी उपलब्धि करार दिया था. हालांकि, चुनावी सीज़न में बिहार के कई इलाकों में शराब पकड़ी गई है, जो कि इस फैसले के क्रियान्वन पर सवाल खड़े करती है.