Input your search keywords and press Enter.

पंडितों पर फिर बरसे मांझी, दिया शर्मनाक बयान

नालंदा जिले में शराब पीने से 11 लोगों की मौत के बाद हिंदुस्‍तानी आवामी मोर्चा (हम) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतनराम मांझी ने एक बार फिर शराबबंदी को लेकर अपने ही गठबंधन में बगावत के स्‍वर को बुलंद किया है. इसके साथ ही उन्‍होंने ब्राह्मण जाति पर भी तीखा प्रहार किया है.जिसके बाद राजनीतिक गलियारे में हलचल मचने लगी है.जीतनराम मांझी ने दोबारा कहा कि बड़े अधिकारी, मंत्री, सांसद-विधायक सभी लोग रात 10 बजे के बाद अच्‍छी गुणवत्ता वाली शराब पीते हैं और शराबबंदी कानून सिर्फ गरीबों को सताने वाला है.उन्‍होंने लोगों को अनपढ़ और शराब का सेवन करने वाले पंडितों से दूर रहने की हिदायत भी दी. ये बातें जीतनराम मांझी ने रविवार को इमामगंज के दोनयां गांव में कंबल वितरण समारोह को संबोधित करते हुए कहीं.

नीतीश कुमार और जदयू से हैं अच्‍छे संबंध

समारोह में मांझी ने कहा कि इमामगंज प्रखंड में सड़क, सिंचाई के लिए डैम, आहर और नहरों की जाल बिछाई जा रही है.जदयू (जनता दल युनाइटेड) और मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से हमारे अच्‍छे संबंध है.नीतीश जी उत्तरप्रदेश विधानसभा में अपने दल के कैंडिडेट खड़े करेंगे.लेकिन, ह‍म पार्टी वहां चुनाव नहीं लड़ेगी.मांझी ने कहा कि वे क्षेत्र में निरंतर विकास कार्य करते आए हैं.दाे दर्जन पुलिया और दो सौ से ज्‍यादा सड़कों के निर्माण को मंजूरी मिल गई है.कुछ का निर्माण कार्य भी शुरू हो गया है.खेतों की सिंचाई के लिए पानी पहुंचाने और जमीन के अंदर की लेयर को मजबूत करने के लिए मुख्‍यमंत्री से एक हजार करोड़ रुपये की राशि मांगी गई है.

अनपढ़ व शराब पीने वाले पंडितों से बचें

पूर्व सीएम एक बार फिर से कहा कि अनपढ़ व शराब पीकर बेवकूफ बनाने वाले पंडितों से दूर रहें. उनके विश्वास में कभी नहीं रहें.इस मौके पर हम पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रो राधेश्याम प्रसाद, प्रो. कौशलेंद्र कुमार सिंह, पंकज वर्मा, पार्वती देवी, रामप्रीत भारती, अशोक प्रसाद प्रतिमा देवी, मंजू पांडये, श्याम सुंदर प्रसाद, नवीन सिंह आदि मौजूद थे.पूर्व सीएम किशुनीचक दलित टोले में गए, जहां प्राथमिक विद्यालय बनवाने की बात कही.