Input your search keywords and press Enter.

उर्दू टीईटी सफल अभ्यर्थियों का परिवार भुकमरी की कगार पर

urdu tet

photo: file

दरभंगा. उर्दू टी0ई0टी0 सफल अभ्यर्थियों की बैठक आॅल इंडिया मुस्लिम बेदारी कारवाँ के क्षेत्रीय कार्यालय लालबाग, दरभंगा में हुई. बैठक की अध्यक्षता कारवाँ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नजरे आलम ने की. इस बैठक में दो दर्जन अभ्यर्थियों ने हिस्सा लिया. सभी अभ्यर्थियों ने अपनी अपनी बातें रखी और बहाली में हो रही देरी एवं राज्य सरकार के की दोहरी निति पर आक्रोश व्यक्त किया.

इस अवसर पर बैठक को संबोधित करते हुए बेदारी कारवाँ के अध्यक्ष श्री नजरे आलम ने कहा कि पहले से पास 4000 अभ्यर्थियों की बहाली के लिए राज्य सरकार कोई साकारात्मक कदम नहीं उठा रही है. जिस कारण चार हजार अभ्यर्थियों का परिवार भुकमरी की कगार को पहुँच चुका है. क्योंकि पांच सालों से यह सभी अभ्यर्थि अपनी अपनी बहाली की आस में दर-दर की ठोकरे खाने पर मजबूर हैं. लेकिर सरकार इन सभी अभ्यर्थियों की बहाली के लिए कहीं से कुछ करती नजर नहीं आ रही है.

Loading...

सरकार और न्यायालय की लड़ाई में इन 4000 अभ्यर्थियों का भविष्य खतरे में पड़ता जा रहा है. बहुतों नौजवान की तो नौकरी की उम्र भी खत्म की कगार पर है और बहुतों नौजवान अपने परिवार को भुकमरी की कगार पर देख आत्महत्या करने को भी मजबूर है. सरकार है कि उसके कान पर जूँ तक नहीं रेंग रहा है.

राज्य सरकार विभिन्न मंचों पर उर्दू के विकास और रोजगार से जोड़ने की बात कर सुर्खियाँ तो बटोर रही हैं लेकिन जमिनि स्तर पर उर्दू को रोजगार से जाड़ने और उर्दू के विकास में पूरी तरह से असफल है. अंत में श्री आलम ने कड़े शब्दों में कहा कि अगर चार हजार उर्दू टी0ई0टी0 सफल अभ्यर्थियों की बहाली के लिए सरकार अविलंब कोई साकारात्मक कदम नहीं उठाती है तो हमारा संगठन बहुत जल्द ईद बाद पटना की धरती पर मुस्लिम और दलितों के अधिकार की रक्षा के लिए सरकार से आमने सामने की लड़ाई लड़ने पर मजबूर होगा.

इस अवसर पर पूर्व अध्यक्ष शब्बीर अंसारी, उपाध्यक्ष मो0 सउद, सचिव सादिक मोहम्मद, मो0 अशरफ, मो0 इमरान, मो0 जाहिद हुसैन, बब्लू आदि बड़ी संख्या में उपस्थित थे. इस अवसर पर बेदारी कारवाँ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नजरे आलम ने सभी अभ्यर्थियों को यकीन दिलाया कि आपकी बहाली की लड़ाई बेदारी कारवाँ पूरी ईमानदारी से लड़ेगा.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.