Breaking News
July 17, 2019 - अब मुखिया जी हुए पावरफुल, वाटर मैनेजमेंट के लिए मिले कई अधिकार
July 17, 2019 - इन 18 एजेंडों पर बिहार कैबिनेट में लगी मुहर
July 17, 2019 - बीजेपी खुलकर कर रहा आरएसएस का गुणगान, निखिल आनंद ने दिया ये बयान
July 17, 2019 - अब देश भर में बांधों की सुरक्षा के लिए बनेगा नया कानून
July 17, 2019 - सुशील मोदी का पलटवार, तब लालटेन पार्टी ने नाव से बाढ़ सर्वे का सुझाव क्यों नहीं दिया था
July 17, 2019 - राबड़ी देवी बोली, गठबंधन के दोनों दलों में विश्वास की कमी शुरू से ही रही
July 17, 2019 - सच्चिदानंद राय बोले, नीतीश की नीयत में शुरु से ही है खोट
July 17, 2019 - राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार पर सही जानकारी नहीं देने का लगाया आरोप
July 17, 2019 - RSS समेत 19 हिंदू संगठनों की जानकारी जुटा रही नीतीश सरकार, बीजेपी गंभीर
July 17, 2019 - बाढ़ से पीड़ित परिवारों को छः हजार रूपये की मदद देगी नीतीश सरकार

शाह का बदला लेकर आ गए मोदी

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टी एमसी बीच चल रही राजनीतिक लड़ाई अब सड़क पर शुरू हो गई हैं. कल अमित रैली के हिंसा देखने मिली. आज मोदी ममता से अमित शाह का बदला लिया. हावड़ा के बाशीरहाट में उन्होंने कहा कि दीदी की बौखलाहट देखकर और यह जनसमर्थन देखकर मैं कह रहा हूं कि बंगाल की मदद से बीजेपी इस बार 300 सीट पार कर जाएगी और इसमें बंगाल की जनता की बहुत बड़ी भूमिका होगी. उन्होंने कहा कि आज पूरे बंगाल से आवाज आ रही है कि दीदी की सत्ता जाने वाली है और इसीलिए वह इस तरह बौखलाई हुई हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘दीदी (ममता बनर्जी) बंगालियों की परंपरा को तार-तार कर रही हैं. वह अपनी ही परछाई से डरी हुई हैं और बौखलाई हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें पता है कि उनकी जमीन खिसक गई है. आज बंगाल से एक ही आवाज आ रही है कि 2019 में ही दीदी का पत्ता साफ होने जा रहा है.’ उन्होंने कहा, ‘बंगाल में दीदी जैसे भड़की हुई हैं, उसने एक बात साफ कर दी है कि बंगाल और देशभर में बीजेपी अपने अकेले दम पर पूर्ण बहुमत ला रही है. दीदी की बौखलाहट देखकर और यह जनसमर्थन देखकर मैं कह रहा हूं कि बंगाल की मदद से बीजेपी इस बार 300 सीट पार कर जाएगी और इसमें बंगाल की बहुत बड़ी भूमिका होगी.’

उन्होंने कहा, ‘दीदी को लगता था कि वह यहां के लोगों को धोखा देकर, डराकर, धमकाकर राज करती रहेंगी. लेकिन जहां से रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद, रविंद्रनाथ टैगोर, सुभाष चंद्र बोस जैसे लोग निकले हों, उस धरती के लोग दीदी को बर्दाश्त नहीं करेंगे. बंगाल के लोगों ने मन बना लिया है कि दीदी को सत्ता से बाहर करना है.’ हाल में बंगाल में भड़की राजनीतिक हिंसा पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा, ‘राजपाट छिनने के डर से दीदी भड़केगी नहीं तो क्या करेगी. दीदी ने अपना वह रूप दिखाया है, जिसके गवाह दिल्ली में बैठे उनके दरबारी भी हैं.’

बीजेपी युवा मोर्चा की नेता प्रियंका शर्मा की गिरफ्तारी को लेकर भी मोदी ने ममता पर तंज कसा. उन्होंने कहा, ‘बंगाल की दो बेटियों के सवाल पूछने पर 4-5 साल पहले दीदी ने गुस्सा दिखाया था. उसका विडियो आज भी सोशल मीडिया पर मौजूद है. दीदी को आज फिर एक बंगाल की बेटी पर गुस्सा आया है और उसे जेल में डलवा दिया. एक फोटो के लिए इतना गुस्सा? दीदी आप तो खुद चित्रकार हैं, आपकी पेंटिंग तो करोड़ों में बिकती हैं. आप भद्दे से भद्दा और गंदे से गंदा मेरा एक चित्र बनाइए और 23 मई के बाद जब मेरे फिर से प्रधानमंत्री बनूंगा तो आप उस चित्र को मुझे भेंट करिए, मैं उसे प्यार से स्वीकार करूंगा. जिंदगीभर अपने साथ रखूंगा, कोई एफआईआर नहीं करवाऊंगा.’

मोदी ने आगे कहा, ‘यहां बीजेपी नेताओं को रैली नहीं करने दी जा रही, वोट नहीं डालने दिया जा रहा. दीदी आप बंगाल को किस युग में ले जाने पर तुली हैं. ऐसा ही कुछ तब हुआ था जब इमरजेंसी के बाद चुनाव हुए थे. आप मेरे शब्द लिखकर रखिए कि ये लड़ाई आपने बीजेपी नहीं बंगाल की जनता के खिलाफ छेड़ी है. बंगाल की जनता कमल का बटन दबाकर आपको जवाब देगी. यह लोकतंत्र है, आप याद रखिएगा कि जिन बेटियों को आपने जेल में डाला है, वही बेटियां आपको सबक सिखाएंगी. ये धरती मां दुर्गा और मां सरस्वती की है, आपने उनका अपमान किया.’

पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर अवैध घुसपैठियों को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘दीदी को लगता है कि उनका घुसपैठिया गैंग, तस्करी और तस्करों से उनका खजाना भरता रहेगा. मगर 23 मई को उनका यह सपना बिखरने वाला है. जो अवैध तरीके से घुसपैठिए यहां हैं, उनकी पहचान की जाएगी. जो भारत माता की जय बोलते हैं और जिनके लिए भारत पहले है, उन्हें संरक्षण भी हम देंगे.’

उन्होंने आगे कहा, ‘सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के बाद अपने सपूतों पर सवाल उठाने वाली दीदी को सबक सिखाना जरूरी है. दीदी ने तो इतना मानसिक संतुलन खो दिया है कि वह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को तो प्रधानमंत्री मानने को तैयार हैं, मगर हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री को अपना प्रधानमंत्री मानने को तैयार नहीं हैं. क्या ऐसी दीदी को माफ करेंगे?’

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *