Input your search keywords and press Enter.

राजद समर्थक मुखिया के घर घुस अंधाधुंध फायरिंग, गई एक की जान

सुशासन राज के दावों में कितनी सच्चाई है यह इस तरह की घटनाओं से पता चल जाता है. घटना बिहार के गोपालगंज के उचका गांव प्रखंड के बलेसरा पंचायत की है. मंगल्वल शाम को हथियार बंद अपराधियों ने आरजेडी समर्थक मुखिया, उनके दो बेटों और पत्नी पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी. इस घटना में मुखिया के बेटे 35 वर्षीय सत्येन्द्र यादव की अस्पताल में मौत हो गई.

Loading...

Widget not in any sidebars

मुखिया का नाम महातम चौधरी है. वे उचका गांव प्रखंड के बलेसरा पंचायत के मुखिया थे. घटना मुखिया के पैतृक गांव पिडरा की है. हत्या की वजह राजनितिक साजिश बताई जा रही है. घटना तब हुई जब वह परिवार के साथ अपने घर के कैंपस में बैठे थे. इसी दौरान बाइक पर सवार हथियार बंद अपराधी घर में घुसकर अंधाधुंध फायरिंग करने लगे. फायरिंग में मुखिया महातम चौधरी, उनकी पत्नी प्रभावती देवी, बेटा सत्येन्द्र यादव और नागेन्द्र यादव गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए.

सभी घायलों को सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया है. जहां इलाज के दौरान मुखिया के बेटे सत्येन्द्र यादव की मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से जख्मी मुखिया और उनकी पत्नी को बेहतर इलाज के लिए गोरखपुर के लिए रेफर कर दिया गया है. उन दोनों की हालत नाजुक बनी हुई है. मुखिया के दूसरे बेटे बेटे नागेन्द्र यादव के हाथ में गोली लगी है, जिन्हें सदर अस्पताल में रखा गया है.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.