Input your search keywords and press Enter.

मुजफ्फरपुर बालिका मामला : हाइकोर्ट एडवोकेट एसोसिएशन के पांच सदस्य टीम द्वारा निरीक्षण

डीबीएन न्यूज़/मुजफ्फरपुर,(रूपेश कुमार)

पटना हाइकोर्ट एडवोकेट के पांच सदस्यीय टीम ने मुज़फ़्फ़रपुर पहुँच कर बालिका गृह का निरीक्षण किया.निरीक्षण के दौरान वे लोग बालिका गृह परिसर व भवन के हर एक पहलु को बड़े बारिखी से देख रहे थे.

बालिका गृह व स्वाधार गृह मामला में हमेशा कुछ न कुछ नया सुनने या देखने को मिलता है.बालिका गृह मामला इतना बढ़ता जा रहा है कि अब लोगो को सरकार पर से विश्वास कम होता दिख रहा है.पटना से आये एडवोकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेश चन्द्र वर्मा के पांच सदस्य टीम ने समीक्षा के दौरान कुछ नए पहलु सामने लाए.

“एडवोकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष ने बताया कि बालिका गृह निरीक्षण के दौरान हमने देखा कि अधिकांश रूम में खिड़की नही लगा हुआ है.बगैर खिड़की वाले घर मे लड़कियां कैसे रहती थी .ये एक आश्चर्यजनक बात है”.

Loading...

DIGI Singing Star Audition के लिए क्लिक करें

पटना हाइकोर्ट एडवोकेट एसोसिएशन के पांच सदस्यीय टीम शनिवार को बालिका गृह का निरीक्षण करने पहुँचे थे.एडवोकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेश चन्द्र वर्मा ने कहा कि इस तरह की घटना मुज़फ़्फ़रपुर शहर के लिए बहुत ही दुःखद है.ये कोई सराहनीय नही बल्कि मानवता को छीन-बिन कर के रख देने वाली कांड है.उन्होंने तो ये भी कह डाला कि मुज़फ़्फ़रपुर के बुद्धिजीवी व्यक्ति व वकील कोई भी इस तरह के संवेदनशील घटना पे क्यों नही कोई सही कदम उठा पाए.इस पूरे मामलें की बिंदुओं पे पटना हाइकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को आवेदन दिया जाएगा.


Widget not in any sidebars

पटना हाई कोर्ट एडवोकेट एसोसिएशन की टीम ने कहा कि हमलोगों बालिका गृह की समीक्षा इसलिए करने आए की यँहा क्या हुआ कैसे हुआ और क्यों हुआ.2013 से बालिका गृह संस्था को चलाया जा रहा था.यह एक गवर्नमेंट NGO था.जिसको सुचारू ढंग से चलने के लिए सरकार पैसा देती थी.सरकार के फण्ड से चलने वाली एक NGO में इस तरह की घटना बहुत शर्म की बात है.उन्होंने कहा कि लड़कियों के साथ जो यौन शोषण व उत्पीड़न का मामला सामने आया है.उसमे हमलोग पटना हाइकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में भी इस बातों को उठाएंगे.

आखिरकार मुजफ्फरपुर बालिका गृह व स्वाधार गृह का मामला आम लोगों को भी काफी झंकझोर कर रख दी है.लोगों की चाह ये है कि जल्द से जल्द दोषी को सजा मिलनी चाहिए .


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.