Breaking News
January 19, 2019 - तेज प्रताप ने नए आवास में जाने के लिए की चुपके से पूजा, तस्वीर देख रह गए सभी दंग
January 19, 2019 - IRCTC घोटाला: लालू की बढ़ी अंतरिम जमानत अवधि, कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला
January 19, 2019 - दरभंगा में इन दो दिग्गजों के बीच होगा महामुकाबला
January 19, 2019 - रेल परियोजना को लेकर हाजीपुर मुख्य जोनल पर धरणा/प्रदशॅन आपर सहयोग से भारी जनसमथॅन से संपन्न। अागामी 29 जनवरी को दिल्ली मे आमरण अनशन-मनोज
January 18, 2019 - मैच के बाद धोनी ने कही दिल जीत लेने वाली बातें
January 18, 2019 - मुंगेर में अनंत सिंह ने दिखाई ताकत
January 18, 2019 - रघुवंश प्रसाद बीजेपी में होंगे शामिल?
January 18, 2019 - कन्हैया कुमार बेगुसराय से ही लड़ेंगे, हो गया फाइनल
January 17, 2019 - मुख्यमंत्री ने गंडक नदी पर निर्माणाधीन बंगरा घाट पुल, सत्तर घाट पुल एवं बेतिया-गोपालगंज पुल का किया एरियल सर्वेक्षण
January 17, 2019 - हमलोगों की प्रतिबद्धता न्याय के साथ विकास की है: मुख्यमंत्री

भगवान राम के नाम पर उपद्रव फैलाने वालों पर जदयू का आया बड़ा बयान….

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए
NEERAJ-KUMAR-JDU

फाइल फोटो

न्यूज़ डेस्क: जनता दल यूनाईटेड के प्रदेश प्रवक्ता नीरज कुमार ने बिहार में बढ़ रहे हिंसक घटनाओं पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. नीरज कुमार ने कहा है कि सद्भाव के बिना विकास की पटकथा नहीं लिखी जा सकती. बिहार में जो साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने की छिटपुट घटनाएं हुई है, उनके आरोपी धीरे-धीरे जेल जा रहे हैं.

उन्होंने कहा है कि हमलोगों को किसी से धर्मनिरपेक्षता के सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा है कि धर्मनिरपेक्षता का मतलब दंगाइयों को बचाना नहीँ होता. प्रवक्ता नीरज कुमार ने हिंसा पर भगवान राम के नाम उपद्रव फैलाएने वालों को नसीहत देते हुए कहा है कि भगवान राम के नाम पर उपद्रव न फैलाएं साथ ही सलाह देते हुए कहा है कि 1 करोड़ बार बेलपत्र पर जय श्रीराम लिखें. नीरज कुमार ने कहा है कि उप्रदव करने वालों पर प्रशासन शिकंजा कास रहा है.

रालोसपा प्रमुख केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा द्वारा कल राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव से एम्स में मुलाक़ात करने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सामाजिक सरोकार और राजनीति दो अलग-अलग विषय है, RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद जी बीमार है एम्स में भर्ती हैं. ऐसे में अगर कोई उनसे कुशलक्षेम पूछने जाता है तो उसके राजनीतिक मायने नही निकाले जाने चाहिए.

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

About author

Related Articles

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *