Input your search keywords and press Enter.

‘नीतीश जी, मॉब लिंचिंग के घटनाओं पर केंद्र आपको ईनाम देने का वादा किया है क्या?’

प्रदेश में भीड़तंत्र बेखौफ हो चुका है. इसका पोल हालिया घटी मॉब लिंचिंग की तीन घटनाएं खोलने के लिए काफी हैं. जिसमें महज शक के आधार पर पांच लोगों को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया गया. भीड़ के चेहरे को देख कर लग रहा है कि उन्हें न तो कानून का खौफ है और न ही उनमें अब इंसानियत बची है. इसी को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर नीतीश सरकार पर जोरदार हमला बोला है.

तेजस्वी ने ट्वीट कर लिखा है कि “नीतीश जी, बिहार में कल मॉब लिंचिंग की दो घटनाएँ और हुई है. सीतामढ़ी में एक युवक की भीड़ ने सरेआम पीट-पीटकर हत्या कर दी. जमुई में भी भीड़ ने एक को पीटा. केंद्र की मॉब लिंचिग समर्थक सरकार ने बिहार में ऐसी घटनाओं को प्रायोजित करने पर आपको ईनाम देने का वादा किया है क्या?”

इससे पहले पिच्च्ले दिनों तेजस्वी ने सीएम को भरपूर घेरने की कोशिश की थी और अपने ट्वीट में लिखा था कि ” मॉब लिंचिंग का हब बना बिहार- बेगूसराय में भीड़ ने पीटकर 3 व्यक्तियों की हत्या की, रोहतास में दलित महिला की पीटकर हत्या, हाजीपुर में दरोग़ा तो जहानाबाद में एएसपी पर हमला, सासाराम में महिला को निर्वस्त्र घुमाया, जिस मुख्यमंत्री में लोकशर्म ही नहीं बची हो उसे क्या-कुछ कहें? “

Loading...

मालूम हो कि भीड़ के आगे न तो पुलिस का वश चल रहा है और न ही वहां खड़े किसी इंसान का. पिछले पांच दिनों के दौरान बिहार से भीड़ की तीन खौफनाक तस्वीरें आयी. इस दौरान 5 दिनों के अंदर बिहार में भीड़ ने 5 लोगों को खौफनाक तरीके से पीट-पीटकर मार डाला.पहली तस्वीर इसी महीने 7 सितंबर को आई जहां बेगूसराय में भीड़ ने 3 लोगों को पीट-पीटकर मार डाला. भीड़ के हत्थे चढ़े तीनों अपराधियों ने अपहरण की कोशिश की थी जिसके बाद भीड़ ने उन्हें पीट-पीटकर मार डाला.दूसरी तस्वीर 08 सितंबर को सामने आई. भीड़ के हत्थे एक महिला की हत्या कर दी गई. सासाराम में मामूली विवाद में एक महिला को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला. शक था कि महिला ने जादू-टोना किया था. घटना शहर के आंबेडकर चौक से सटे नहर किनारे दलित बस्ती की थी. इस मामले में पुलिस ने चार में से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया. वहीं, भीड़तंत्र की तीसरी तस्वीर सीतामढ़ी जिले से सोमवार को आई जहां चोरी की आशंका में एक व्यक्ति को भीड़ ने मार डाला. इस मामले में पुलिस ने एक नामजद और 150 अज्ञात लोगो के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

सीतामढ़ी जिले में हुई सोमवार की घटना पर मृत युवक के रिश्तेदार सरकार के लॉ एंड आर्डर पर सवाल खड़ा किया है. साथ ही उन्होंने कहा है कि विधायिका अपना साख खोते जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.