Input your search keywords and press Enter.

अंबेडकर जयंती समारोह के बहाने लोकसभा चुनाव से पहले एक ही मंच पर बिहार के दिग्गज नेता….

paswan nitish kushwaha in dalit sena program

न्यूज़ डेस्क: जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आते जा रहा है वैसे-वैसे बिहार की सियासत का रंग बदलता जा रहा है. कल तक एक-दुसरे से कन्नी काटने वाले बिहार के बड़े नेता आज एक ही मंच पर साथ आने वाले हैं. आज भीमराम राव अंबेडकर जयंती के दिन समारोह के बहाने एनडीए के सभी सहयोगी दल एक मंच पर आ रहे हैं.

एक-दुसरे के खिलाफ राजनीति करने वाले बिहार के दो बड़े राजनेता सार्वजानिक मंच पर आ रहे हैं. दरअसल पटना के बापू सभागार में दलित सेना और लोजपा की तरफ से आयोजन किया जा रहा है. जिसमें केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान, सुशील कुमार मोदी, सीएम नीतीश कुमार और केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा एक साथ मंच साझा करने जा रहे हैं. हाल के दिनों में नीतीश कुमार के रामविलास पासवान और उपेन्द्र कुशवाहा से मुलाकात को लेकर कयासों का दौर चल रहा है. हालांकि उपेन्द्र कुशवाहा से व्यक्तिगत तौर पर मुलाक़ात करने वाले सीएम नीतीश कुमार एक ही मंच पर आज साथ होंगे.

Loading...

हाल के दिनों सूबे की बदली राजनैतिक परस्थिति में सीएम नीतीश कुमार ने रामविलास पासवान, उपेन्द्र कुशवाहा और सांसद पप्पू यादव से मुलाक़ात किया है. सूबे में हिंसा के बाद असहज हुए नीतीश कुमार के इन नेताओं से मुलाकात को लेकर तीसरे मोर्चे के रूप में कयास लगाया जा रहा है. हाल के दिनों में रामविलास पासवान ने कई बार बीजेपी की नीतियों पर सांप्रदायिक सौहार्द को लेकर सवाल उठाए हैं. जबकि सीएम नीतीश कुमार ने बीजेपी को भी इशारों ही इशारों में दो टूक जवाब दे दिया है. उपेंद्र कुशवाहा की बीजेपी से नाराजगी जगजाहिर है.

ऐसे में इन तीन नेताओं के बीच बढती नजदीकियां बहुत कुछ बयां कर रहे है. हालांकि इस समारोह में डिप्टी सीएम सुशील मोदी उपस्थित रहेंगे. लेकिन समारोह से सभी दल दलिटन के सच्चे हितैषी बनने की कोशिश में जरुर लगे हुए हैं. सभी नेताओं का अपने विशेष जातियों पर पकड़ माना जाता है ऐसे एकजुटता बीजेपी की आक्रमकता की धार को कुंद करने की एक कोशिश भी मानी जा सकती है.



Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.