Input your search keywords and press Enter.

नीतीश के लालू को फ़ोन करते ही शुरू हुआ सुशील मोदी के खुलासों का दौर

sushil modi 1

file photo

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजद सुप्रीमों को फोन किया तो प्रदेश के राजनीति में भूचाल सी आ गयी है. इसे लेकर एनडीए के नेता बयानबाजी में व्यस्त है तो इधर बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने आज एक बार फिर से प्रेसवार्ता कर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी के खिलाफ नया अारोप लगाते हुए खुलासा किया है कि तेजस्वी अब 750 करोड़ का मॉल के बाद करोड़ों के लोहे का व्यापार भी करते हैं. उन्होंने कहा कि तेजस्वी लारा एंड संस नामक के आयरन और स्टील बेचने वाले प्रतिष्ठान के भी मालिक हैं.


Widget not in any sidebars

तेजस्वी जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड, जिंदल सेंटर, 12 भिखाजी कामा प्लेस, नई दिल्ली के हैंडलिंग एंड स्टोरेज एजेंट के रूप में साल 2012 से काम कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि जिंदल स्टील ने तेजस्वी यादव को 28 सितम्बर, 2012 को रामगढ़/पतरातू के आरगुल के स्टील प्लांट से निर्मित माल हेतु हैंडलिंग एंड स्टोरेज एजेंट नियुक्त किया.

Loading...

उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कंपनी की जानकारी देते हुए कहा कि लारा एंड संस, रानीपुर खिड़की, मिर्चाइ रोड, पटना सिटी के नाम से आयरन एंड स्टील का व्यापार करने के लिए वैट का रजिस्ट्रेशन नंबर TIN – 10062264062 वाणिज्य कर विभाग के पूर्वी अंचल से प्राप्त किया. इसके अतिरिक्त Central Sales Tax, CST तथा Entry Tax का रजिस्ट्रेशन भी प्राप्त किया. आगे उन्होंने कहा कि इस व्यापार को करने के लिए स्टेट बैंक अॉफ इंडिया का A/c. No.-30295914683, PAN-ACSPY9993J,और Mobile No.-9473240226 का इस्तेमाल किया गया.

साथ ही मोदी ने तेजस्वी से सवाल करते हुए पूछा है कि Iron & Steel के Jindal Co. के Handling Agent के तथ्यों को आज तक छुपाया क्यों गया?, चुनाव आयोग को दिए गए सम्पत्ति के ब्यौरे में इस जमीन तथा व्यापार का उल्लेख क्यों नहीं किया गया?, तेजस्वी यादव Jindal Co. के agent के रूप में करोड़ों का व्यापार करते रहे परन्तु VAT के Return मे Turnover शून्य दिखाते रहे, आखिर तेजस्वी यादव 22 वर्ष की उम्र में Delite Marketing, A B Export, Lara Sons, Fairgrow जैसी कम्पनियों के मालिक केसे बन गए?

यह भी पढ़ें:
नीतीश ने लालू को किया फोन, तेजस्वी का आया बड़ा बयान



Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.