Input your search keywords and press Enter.

ओवैसी ने नीतीश को दी धमकी, कहा बिहार में नहीं लागू कर पाएंगे NPR

किशनगंज के रूईधासा मैदान में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व में रविवार को नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के खिलाफ रैली निकाली गई। इसी बीच ओवैसी ने कहा कि बिहार में एनपीआर लागू करना आसान नहीं होगा। अगर एनपीआर लागू करना ही है, तो नीतीश कुमार को पहले एक आम घोषणा करनी होगी।

रैली को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा, “अभी त्याग का समय है। हमें बहुत कुछ त्याग कर भी संविधान को बचाना है। ओवैसी ने कहा कि यह मसला सिर्फ मुसलमानों का नहीं है, बल्कि संविधान बचाने का है। हम पीएम नरेंद्र मोदी को पैगाम देना चाहते हैं कि हमने जिन्ना से हाथ नहीं मिलाया। हम अलग रहे, पर हमें किसी से डर नहीं लगता। हमने रैली में तिरंगा झंडा किसी के डर से नहीं लगाया, बल्कि इसलिए लगाया है कि इसकी सुरक्षा करना चाहता हैं। ओवैसी ने अपने संबोधन में साफ कहा कि बिहार में एनपीआर को लागू नहीं किया जा सकता। इसके लिए नीतीश कुमार को ऐलान करना पड़ेगा। मैं इस मुद्दे पर किसी से बहस करने को तैयार हूं।”

असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को यह भी कहा कि राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और नागरिक संशोधन कानून (सीएए) लागू कर सरकार देश के अंदर फूट डालना चाहती है। उन्होंने कहा कि इस कानून का जबर्दस्त विरोध किया जाएगा।

रैली में पहुंचे AIMIM के बिहार प्रदेश अध्यक्ष अख्तरुल ईमान और पार्टी के विधायक कमरूल होदा ने भी CAA और NRC को लेकर अपनी भी बातें रखीं।