Input your search keywords and press Enter.

पटेगना चौक में नशीली पदार्थों का क्रय-विक्रय जोरो पर-शमसाद राही

अररिया (अल्लामा ग़ज़ाली )

अररिया जिला के ताराबाड़ी थाना क्षेत्र पटेगना चौक के समीप हनुमान मंदिर के पीछे खुलेआम कोडिनयुक्त कफ सिरप व सरकार द्वारा दिखावे के लिए बंद की गई शराब पहले के अपेक्षा अधिक क्रय-विक्रय हो रहा है.सरकार द्वारा बंद की गई शराबबंदी सिर्फ बंदी नाम भर ही सीमित है.उक्त बातें सामाजिक कार्यकर्ता श्री शमसाद राही ने मंगलवार को अपने आवास में पत्रकारों से हुई बातचीत में कहा.उन्होंने कहा कि सीमांचल क्षेत्र अंतर्गत कोडिनयुक्त नशीली कफ सिरप धड़ल्ले से बेची जा रही है,जिससे आए दिन नई नस्लें इस नशीली दवाओं के शिकार हो रहे हैं।श्री शमसाद ने स्पष्ट कहा सरकार के द्वारा बंद की गई शराब,फलोअप साबित हो रही है और आए दिन यह धंधा फलता-फूलता जा रहा है.यहां बता दें कि इससे पूर्व भी श्री शमशाद ने ताराबाड़ी थाना प्रभारी को फोन पर सूचना देकर पटेगना चौक अंतर्गत बिकने वाली नशीली दवाओं के माफियाओं पर नकेल करने की बात कही थी।परंतु फिलवक्त स्थानीय पुलिस प्रशासन भी सही रुप से धंधेबाज पर कार्रवाई नहीं कर पा रहे हैं.

Loading...

स्थानीय लोगों का मानें तो शराबबंदी महज दिखाने योग्य है।यदि आप बात करें शराब की तो अररिया जिला के सटे नेपाल व पश्चिम बंगाल से शराब की तस्करी जोरो पर है।बता दें कि पश्चिम बंगाल के सटे किशनगंज जिला होते हुए शराब बड़े पैमाने पर अररिया पहुंचती है और कई बार पुलिस प्रशासन तस्कर को पकड़ने में सफलता पायी है.श्री शमशाद राही ने कहा कि स्थानीय पुलिस प्रशासन को चाहिए कि अभिलंब ठोस कदम उठाते हुए धंधेबाजों पर कार्रवाई करते हुए शराब माफियाओं व नशीली पदार्थों के सक्रिय तस्करों पर अविलंब कारवाई करें.उन्होंने यह भी कहा कि इस गोरखधंधा में कुछ स्थानीय जनप्रतिनिधियों का भी हाथ है।इस संबंध में ताराबाड़ी थाना क्षेत्र के प्रभारी महबूब आलम ने कहा कि पुलिस इस ओर ठोस कदम उठायी थी और अब भी कारवां किया जाएगा।बताना लाजमी होगा कि शमसाद ने इससे पूर्व भी उक्त मामले को लेकर आवेदन दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.