Input your search keywords and press Enter.

जेदीयू नेता ने ही नीतीश से पुछ डाला सवाल, क्यूँ लागू हो रहा है NPR और NRC

जेदीयू महासचिव पवन वर्मा
जेदीयू महासचिव पवन वर्मा

जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव पवन वर्मा ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार से एक मांग की है। नीतीश जी से यह मांग किया गया है कि वे संशोधित नागरिकता कानून, एनपीआर और एनआरसी को पूरी तरह अस्वीकार कर ले। वर्मा का यह भी कहना है कि इस एक्ट का एजेंडा भारत को बांटने और सामाजिक विद्वेष को बढ़ावा देना है।

सीएम नीतीश कुमार को लिखी खुली चिट्ठी में वर्मा ने राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर से संबंधित कार्यों की शुरुआत की एकतरफा घोषणा पर आश्चर्य व्यक्त किया है। वर्मा का कहना है कि खुद बिहार के सीएम नीतीश कुमार इसके खिलाफ हैं।

वर्मा का मानना है कि इन योजनाओं से देश विभाजित हो रहा है। सामाजिक अशांति फैल रखी है हर जगह। उन्होने यह भी कहा, ‘आपके खुद के दिए बयानों और लंबे समय से स्थापित सेक्यूलर विजन को देखते हुए मैं आपसे इसके खिलाफ सैद्धांतिक पक्ष के साथ खड़े होने की अपील करता हूं।’

नीतीश कुमार से यह भी कहा गया है कि वे सार्वजानिक तौर पे अपनी राय ज़ाहिर करें इन योजनाओं पर।