Input your search keywords and press Enter.

नियोजित शिक्षकों ने पटना के महावीर मंदिर के बाहर मांगी भीख

नियोजित शिक्षकों की हड़ताल लगातार जारी है. हड़ताली शिक्षक मंगलवार को पटना जंक्शन स्थित महावीर मंदिर के बाहर भीख मांगते नजर आए। एक तरफ शिक्षक अपनी जिद पर अड़े हुए हैं तो वहीं दूसरी तरफ बिहार सरकार भी शिक्षकों की मांग पूरी करने को इच्छुक नजर नहीं आ रही है। शिक्षक अपनी सात सूत्री मांगों के समर्थन में डटे हुए हैं। पुराने शिक्षकों की तरह वेतनमान की मांग कर रहे हैं।

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के राज्य संयोजक ब्रजनंदन शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार हठधर्मिता अपना रही है। इससे हड़ताल लंबी चल रही है। 15 दिनों से प्रदेश के 76 हजार स्कूलों में ताले लटके हुए हैं।

सरकार की उदासीनता एवं शिक्षा विरोधी नीतियों के खिलाफ राज्यभर के शिक्षक 5 मार्च को आक्रोश मार्च निकालेंगे। शिक्षकों का कहना है कि सरकार को समन्वय से काम लेना चाहिए और तानाशाही का रवैया छोड़कर बच्चों के हित में निर्णय लेना चाहिए। आक्रोश मार्च के बाद छह मार्च को प्राथमिक शिक्षक संघ भवन में समन्वय समिति की बैठक होगी।