Input your search keywords and press Enter.

मोसुल में मारे गये बिहार के लोगों का हुआ अंतिम संस्कार, पीएम ने 10 लाख रुपये देने का किया एलान

न्यूज़ डेस्क: इराक के मोसुल में आइएसआइएस आतंकियों के हाथों मारे गए 39 भारतीयों में से पांच बिहार के सिवान जिले के निवासी थे. पांच बिहारियों का शव राजधानी पटना पहुंचते ही मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी सहित राज्‍य के कई मंत्रियों व अधिकारियों ने श्रद्धांजलि दी. इसके अलावे सिवान में जिलाधिकारी व आरक्षी अधीक्षक सहित पुलिस व प्रशासन के तमाम अधिकारियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की.

Loading...

पांच लोगों के शवों के अवशेष विशेष विमान से सोमवार को रात साढ़े नौ बजे पटना एयरपोर्ट पर पहुंचा. विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने शवों के अवशेष राज्य सरकार को सौंपे. एयरपोर्ट स्थित स्टेट हैंगर में सीएम नीतीश कुमार तथा उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने पुष्प चक्र अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. इसके बाद सभी शवों के अवशेष को उनके पैतृक निवास स्थल सिवान भेजा गया. फूलों से सजे पांच ट्रकों पर शवों के अवशेष रख उनके गांवों को रवाना कर दिया गया.

सभी शव को पुलिस लाइन लाया गया जहां यहां जिलाधिकारी महेंद्र कुमार, पुलिस अधीक्षक नवीन चंद्र झा तथा परिवार के सदस्य शव आने के इंतजार में पहले से ही मौजूद थे. सभी ने शवों पर पुष्प अर्पित किया. मृतकों में मैरवा के धर्मेंद्र खरवार, जमादार सिंह एवं सुनील कुमार कुशवाहा का शव उनके परिजन लेकर मैरवा ले गये. हालांकि संतोष कुमार सिंह और विद्याभूषण तिवारी के परिजन शव लेने नहीं पहुंचे. जिसके बाद शवों को लेकर स्थानीय अधिकारी आंदर प्रखंड के सहसराव गांव ले गये जहाँ काफी मशक्कत के करने समझाने बुझाने के बाद रिजनों ने शव को स्वीकार कर अंतिम संस्कार किया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये अनुग्रह अनुदान रूप में मुहैया कराने का निर्देश गृह विभाग को दिया है. श्रम संसाधन विभाग द्वारा मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रुपये अनुग्रह अनुदान के रूप में उपलब्ध कराया जा चुका है. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इराक के मोसुल में मारे गये लोगों के परिजनों को प्रति संवेदना व्यक्त किया है साथ ही परिजनों को दस लाख देने का ऐलान किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.