Input your search keywords and press Enter.

पटना में इंडिगो मैनेजर की हत्या से राजनीतिक उबाल, भाजपा सांसद ने नीतीश सरकार को घेरा

बिहार की राजधानी पटना में इंडिगो स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह की हत्या से बिहार की सियासत भी गरमा गई है। सत्ता पक्ष के साथ-साथ विपक्ष ने भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई वाली सरकार में प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं। इस हत्याकांड को लेकर सीबीआई जांच की मांग उठने लगी है। सभी नेताओं ने राजधानी के पॉश इलाके में हाई प्रोफाइल हत्याकांड की निंदा की है वहीं उन्होंने नीतीश सरकार पर भी हमला बोला।

आपको बता दें कि भाजपा सांसद विवेक ठाकुर ने पटना में इंडिगो स्टेशन मैनेजर की हत्याकांड पर कहा कि आपराधिक चरित्र नहीं होने के बावजूद हुई रूपेश की हत्या चिंताजनक है। यह राज्य की नवगठित एनडीए सरकार पर सवाल उठाता है। हत्या के बाद जारी बयान में बीजेपी सांसद ने कहा कि पटना पुलिस को इस घटना को चुनौती के रूप में लेना चाहिए। तीन से पांच दिनों के अंदर इस आपराधिक वारदात की पड़ताल कर परिणाम देना चाहिए। जरूरत हो तो इसे सीबीआई को देना चाहिए। आखिर क्या कारण हुई, जो हत्या हुई है। कहीं सुनियोजित रणनीति के तहत सरकार की छवि खराब करने की कोशिश तो नहीं की जा रही है। आखिर बिना आपराधिक चरित्र के व्यक्ति को गोली मारा जाना दुखद है।

नेता प्रतिपक्ष सह राजद नेता ने हत्याकांड को लेकर ट्वीट करते हुए कहा कि अनैतिक और अवैध सरकार के संरक्षण में अपराधों और दुष्कर्मों की प्रतिदिन संख्या बढ़ना NDA की सामूहिक विफलता है। नीतीश जी द्वारा अपराधों को छिपाने की चेष्टा एवं उसे स्वीकार नहीं करना ही सबसे बड़ा अपराध और अपराधियों के लिए रामबाण है। उनसे बिहार नहीं संभल रहा, वो अविलंब इस्तीफ़ा दें।