Input your search keywords and press Enter.

चंपारण की बेटियां असुरक्षित, शौच को गयी किशोरी के साथ हुआ दुष्कर्म

rape and blackmail

डीबीएन न्यूज/मोतिहारी {मधुरेश}. सूबे की सरकार चाहे जो दावा करे लेकिन हकीकत तो यह है कि गांधी जी की कर्मभूमि चंपारण में बेटियां असुरक्षित हैं. सरकार के बेटी बचाओं अभियान का यहां कोई असर नहीं है. ताजा घटना पूर्वी चंपारण जिले के नेपाल सीमावर्ती घोड़ासहन थाना क्षेत्र से प्रकाश में आया है जहां रात्रि में शौच के लिए खेत की ओर गयी एक 15 वर्षीय किशोरी के साथ जबरन दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है.

Loading...

इस मामले को लेकर घोड़ासहन पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है. प्राथमिकी को लेकर थाने को दिए गये आवेदन में पीड़िता के पिता ने लिखा है कि उनकी बेटी कल देर शाम शौच के लिए घर के बगल स्थित खेत में गई थी. जब वह देर रात तक नहीं लौटी तो हमलोगों ने उसे खोजना शुरु किया, परंतु वह नहीं मिली.आज अहले सुबह पीड़िता दुष्कर्मी के चंगुल से छुट कर किसी तरह अपने घर पहुंची. उसने बताया कि गांव का ही एक युवक उसे पकड़ लिया एवं जबरन उठा कर मक्के के खेत में ले गया. युवक ने उसका हाथ-पैर बांधकर रात भर उसके साथ दुष्कर्म किया.

उधर, इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होते ही हरकत में आयी पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया. घोड़ासहन के थानाध्यक्ष युसूफ अंसारी ने बताया कि गिरफ्तार युवक से आवश्यक पूछताछ के बाद उसे केन्द्रीय कारा मोतिहारी भेज दिया गया है. अब यहां सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि क्या बहशीपन के शिकार लोग हमेशा बेटियों के साथ ऐसी हरकत करते रहेंगे और पुलिस ने पकड़ कर जेल भेजती रहेगी. सरकार को चाहिए कि बेटियों के साथ जुर्म करने वाले को ऐसा सबक सिखलाए कि दुष्कर्म जैसे वारदात की पुनरावृत्ति नहीं हो.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.