Input your search keywords and press Enter.

शेखपुरा डीएम की बड़ी कार्रवाई, 47 कर्मियों का एक दिन का कटा वेतन, किया शोक कॉज

डीबीएन न्यूज/शेखपुरा(ललन कुमार)

शेखपुरा डीएम योगेंद्र सिंह के द्वारा सदर ब्लाक शेखपुरा का औचक निरीक्षण किया गया. इस दौरान शेखपुरा बीडीओ,सीडीपीओ समेत 47 कर्मी ड्यूटी से फरार पाए गए.सभी को डीएम ने शो कॉज करते हुए एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया.हद तो तब हो गई जब डीएम के द्वारा सदर ब्लाक के औचक निरीक्षण के दौरान शेखपुरा बीडीओ और सीडीपीओ भी ड्यूटी से फरार मिले.बताया गया कि सदर ब्लाक से बीडीओ समेत चार कर्मी ड्यूटी से फरार पाए गए.इनमे दो कर्मी मोहम्मद गजनफर अली और अबू सलमा नाजिर 30 अगस्त के डेट में हाजिरी बनाकर ड्यूटी से फरार पाए गए. वहीं आरटीपीएस के निरीक्षण के दौरान 6 कर्मी फरार मिले.

Loading...

इंदिरा आवास के निरीक्षण के दौरान नौ कर्मी और अंचल कार्यालय से संजय कुमार लिपिक के साथ तीन कर्मी ड्यूटी से गायब मिले. सीडीपीओ ऑफिस के निरीक्षण के दौरान पांच एलएस और एक सहायक अवधेश कुमार फरार मिले. जबकि 9 विकास मित्रों में मात्र अनीता देवी को छोड़कर सभी विकास मित्र ड्यूटी से फरार मिले. इतना ही नहीं विधिक सहायक मोहिनी माथुर भी फरार मिले.आरटीपीएस के निरीक्षण के दौरान प्रमाण पत्र देने का रिसीविंग नहीं रहने पर डीएम ने गंभीरता से लिया है. डीएम ने रिसीविंग नहीं कराए जाने पर निर्देश दिया की रिसीविंग प्रमाणपत्र देने के दौरान अवश्य कराएं.

वही पथरेटा गांव के मोहम्मद शफीउद्दीन द्वारा 16/12/17 को ही विकलांग प्रमाण पत्र देने का आवेदन दिया गया था लेकिन आज तक बैंक का IFSC कोड नहीं रहने के कारण उसे रिजेक्ट कर दिया गया था. डीएम ने इसे गंभीरता से लेते हुए आरटीपीएस कर्मी को आज ही शफीउद्दीन के आवेदन को स्वीकृत कर प्रमाण पत्र देने का निर्देश दिया.डीएम के निरीक्षण के दौरान डीडीसी निरंजन कुमार झा, कोषागार पदाधिकारी शशिकांत आर्य, डीपीआरओ सत्येंद्र प्रसाद समेत अन्य लोग मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.